एंटी रोमियो अभियान के तहत पुलिस ने भाई-बहन को पकड़ा, छोड़ने के लिए मांगी रिश्वत

रामपुर : योगी सरकार के एंटी रोमियो दल के गठन ने पूरे यूपी राज्य में हलचल मचा दी है। एंटी रोमियो अभियान के दौरान चचेरे भाई-बहन को हिरासत में लेने और उनसे रिश्वत लेने के आरोप में दो पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है।

पुलिस अध्यक्ष केके चौधरी ने बताया​ कि दोनों की उम्र तकरीबन 18 साल है और जिस समय उन्हें हिरासत में लिया गया, वे हशमतगंज गांव दवाएं खरीदने गए थे। अधिकारी ने बाताया कि पुलिसकर्मियों ने एंटी रोमियो अभियान के तहत उन पर कार्रवाई की और उन्हें एक थाने में पांच घंटे से ज्यादा समय तक रखा गया।

उन्होंने कहा कि उनके रिश्तेदारों के आने और ये बताने के बावजूद, कि वो प्रेमी युगल नहीं बल्कि रिश्तेदार हैं, पुलिसकर्मियों ने उन्हें नहीं जाने दिया। अधिकारी ने कहा कि पुलिसकर्मियों ने उनसे कथित तौर पर पांच हजार रुपए की रिश्वत मांगी। रिश्तेदारों ने रिश्वत दे दी और इसका वीडियो भी बना लिया।

इसके बाद उन्होंने स्थानीय विधायक और मंत्री बलदेव सिंह औलख से संपर्क किया जिन्होंने पुलिस अधीक्षक को घटना की जानकारी दी। वहीं, वीडियो देखने और प्रारंभिक जांच के बाद कल उन्होंने आरोपी उपनिरीक्षक और सिपाही को निलंबित कर दिया। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ साफ साफ कह चुके हैं कि एंटी-रोमियो के नाम पर लोगों को परेशान नहीं किया जाना चाहिए।

Share This Post