रोहिंग्या बस्ती में मिला गौ माता का कंकाल…. बौद्धों के कातिलों वाले रंग में आते दिख रहे रोहिंग्या

रोहिंग्या मुस्लिमों का आंतक दिनोदिन बढ़ता ही जा रहा है और इन्होने पहले म्यमांर से लेकर बांग्लादेश तक अपना आंतक मचाया अब ये अपने आंतक को फैलाने

के लिए जम्मू कश्मीर तक पहुंच गए। जहां ये अपनी हरकतों से बाज नहीं आये और इन रोहिंग्या मुस्लिमों को इलाके में आंतक फैलाने का रास्ता नहीं मिला तो

रोहिंग्यो ने गाय को मारकर अपने शिवरो में गाय के कंकाल को रखकर जम्मू सीमांत इलाके में आंतक फैलाने की कोशिश की ।

लेकिन जम्मू पुलिस ने इनके

मंशूबे को नाकाम कर दिया और 12 रोहिंग्या मुस्लिमों को गिरफ्तार किया।

बता दें कि जम्मू पुलिस ने थाने में 10 रोहिंग्या मुसलमानो को गिरफ्तार किया और उनसे गहन पूछताछ की। पुलिस जांच से पता चला कि भारी मात्रा में ये

रोहिंग्या मुसलमान जम्मू सीमांत इलाके में अपने पाँव पसार रहे है और अपने आप में जीता जगता ह्यूमन बंब है जो हमारे देश के लिए बड़ा ही घातक है।

पुलिस

ने जानकारी दी कि इन रोहिंग्या मुसलमानो ने अपने शिवर में गाय को मारकर गाय का कंकाल रखे हुए थे जिसका इलाके में रहने वाले हिंदुओं ने विरोध किया

और पुलिस में इस घटना की शिकायत की। पुलिस ने शिकायत पर रोहिंग्या मुसलमानो को गिरफ्तार किया।

गौरतलब हैं कि पुलिस रोहिंग्या समुदाय के लोगों से पूछताछ कर रही है कि “गाय की हत्या किसने की ,गाय को क्यों मारा ,गाय का कंकाल कहा से आया

,तुम्हारा मकसद क्या है ?

“रोहिंग्या मुसलमान फिर भी टस से मस नहीं हो रही और पुलिस ने इन्हे टार्चर भी किया लेकिन फिर भी इनका मुँह बंद है। इस विषय

पर जम्मू थाना प्रभारी साजिद मीर रोहिंग्या मुसलमान की संज्ञान ले रहे है। रोहिंग्या मुसलमान कुछ महीने पहले दुनिया के नजरो से बचने के लिए बांग्लादेश के

राहत शिवरो में शरण ले रखा था और अपने साथ प्रेंगनट रोहिंग्या मुस्लिम महिलाओ को लेकर आये थे ताकि उनसे प्रजनन करवाकर देश में आंतक फैलाने के लिए

रोहिंग्या मुसलमानो की फ़ौज तैयार कर सके।

Share This Post