जिस पार्टी का समर्थन किया था लश्कर ने.. उसी पार्टी ने अब किया समर्थन सुषमा स्वराज का.. कर्तव्यनिष्ठ पासपोर्ट अधिकारी विकास मिश्रा की प्रताड़ना के मुद्दे पर

देश की एक राजनैतिक पार्टी जो खुद को धर्मनिरपेक्षता का सबसे बड़ा झंडबरदार बताती है. वही राजनैतिक पार्टी जिसका समर्थन हिंदुस्तान के सबसे बड़े दुश्मन लश्कर ने किया था. जी हाँ हम बात कर रहे हैं कांग्रेस पार्टी की. इस्लामिक आतंकी संगठन लश्कर का समर्थन हासिल कर चुकी कांग्रेस पार्टी अब खुद उतरी है विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के समर्थन में. गौरतलब है कि तन्वी-अनस पासपोर्ट मामले में कांग्रेस पार्टी ने सुषमा स्वराज का समर्थन किया है.

गौरतलब है कि हिन्दू धर्म छोड़कर मुस्लिम बनी सादिया तथा उसके पति अनस के पासपोर्ट मामले को लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को उनके ही समर्थकों द्वारा ट्रोल किया जा रहा है तथा कहा जा रहा है कि विदेश मंत्रालय ने नियमों को दरकनिकार कर तन्वी(सादिया) को पासपोर्ट दिया तथा एक ईमानदार अधिकारी विकास मिश्रा को सजा देते हुए उनका ट्रांसफर कर दिया. इसी को लेकर कांग्रेस ने सुषमा स्वराज का समर्थन किया है. सुषमा स्वराज के समर्थन में ट्वीट करते हुए कांग्रेस ने कहा है कि कि सुषमा जी हम आपके निर्णय का सम्मान करते हैं. लेकिन जिस तरह से आपकी पार्टी के लोग ही आपके निर्णय पर सवाल उठा रहे हैं और सोशल मीडिया पर ट्रोल कर रहे हैं हम उसकी निंदा करते हैं और आपके निर्णय का सम्मान करते हैं. पार्टी ने लिखा है कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि हालात और क्या कारण रहे हों लेकिन इससे हिंसा, अपमान और दुर्व्यवहार करने का अधिकार नहीं मिल जाता है.

कितने आश्चर्य की बात है कि जिन सुषमा स्वराज के फैसले की खुद उनके समर्थकों द्वारा आलोचना के जा रही है, खुद भाजपा के तमाम नेता इस फैसले से असहमत हैं, यहां तक कि आरएसएस, विहिप, बजरंग दल सभी सुषमा स्वराज का विरोध कर रहे हैं कि आखिर क्यों एक ईमानदार अधिकारी को प्रताड़ित किया जा रहा है? वो विकास मिश्रा जिसने पूरी ईमानदारी तथा कर्तव्यनिष्ठा से अपना कार्य किया उस विकास मिश्रा को सजा क्यों? ऐसे कई सवाल सुषमा स्वराज से खुद उनके ही घर से निये जा रहे हैं लेकिन कांग्रेस पार्टी को सुषमा का निर्णय पसंद आ गया क्योंकि ये फैसला कांग्रेस की विचारधारा से मिलता था. कांग्रेस पार्टी एक अधिकारी के समर्थन में आवाज नहीं उठा पाई लेकिन सरकार के गलत फैसले का समर्थन कर रही है.

Share This Post