पत्रकार की पिटाई साबित करती है उन इतिहासकारों की मजबूरी को जो चाहकर भी नहीं लिख पाए होंगे भगत सिंह और चंद्रशेखर आजाद का इतिहास

वो पूरे देश में घूम घूमकर कह रहे हैं कि देश की सत्तासीन भारतीय जनता पार्टी लोकतंत्र की हत्या कर रही है, संविधान के खिलाफ कार्य कर रही है. उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार पर मीडिया की आवाज को दबाने का भी आरोप लगाया है. पिछले दिनों उन्होंने दिल्ली में संविधान बचाओ रैली की तो कल एक बार फिर दिल्ली के ही ऐतिहासिक रामलीला मैदान में आक्रोश रैली की. लेकिन आक्रोश रैली में भाजपा पर संविधान के खिलाफ कार्य करने तथा मीडिया की आवाज को दबाने का आरोप लगाने वाली कांग्रेस तथा उनके अध्यक्ष राहुल गांधी के कार्यकर्ताओं का एक बेहद ही असंवैधानिक तथा घिनौना रूप देखने को मिला.

कांग्रेस पार्टी ने रैली को लेकर दावा किया गया था कि इसमें करीब दो लाख कांग्रेस समर्थक राहुल गांधी को सुनने के लिए आएंगे. पूरी कांग्रेस पार्टी इसको लेकर उत्साहित थी तथा उन्हें उम्मीद थी कि इस रैली में उमड़ने वाली भारी भीड़ केंद्र की भाजपा सरकार के खिलाफ उसके अभियान को मजबूती देगी लेकिन कांग्रेस की ये उम्मीदें उस समय ध्वस्त होती नजर आईं जब रामलीला मैदान की ज्यादातर कुर्सियां खाली ही रह गईं. जब इस वाकये के कवरेज की कोशिश एक पत्रकार ने की तो उसे कांग्रेस कार्यकर्ताओं के गुस्से का सामना करना पड़ा. दरअसल, रैली में बड़ी संख्या में कुर्सियां खाली रहने की कवरेज एक मीडिया संस्थान का पत्रकार कर रहा था. उसी दौरान कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ताओं ने पत्रकार के साथ बदसलूकी शुरू कर दी. उसे कवरेज करने से रोका जाने लगा.

कांग्रेस कार्यकर्ता कैमरे के सामने सफेद रूमाल लहराने लगे. वीडियो में दिखता है कि कांग्रेस कार्यकर्ता ने पत्रकार और कैमरामैन के साथ न सिर्फ बदसलूकी की है, बल्कि उनके साथ धक्का-मुक्की भी की है. आश्चर्य इस बात का है कि ये घटना जिस वक्त हुई, उस वक्त राहुल गांधी मंच पर थे जो मीडिया की स्वतंत्रता की बात करते हैं लेकिन उन्हीं की सभा में, उन्ही के कार्यकर्ताओं द्वारा मीडिया को सच दिखाने से रोकने का प्रयास किया गया. ये सारी घटना कैमरे में कैद हो गई है. मीडिया पर कांग्रेस का ये हमला साबित करता है कि इतिहासकारों ने अगर महाराणा प्रताप, शिवाजी, भगत, आजाद, पद्मिनी के सच्चे इतिहास को लिखने की कोशिश भी की होगी तो शायद भी इसी तरह की स्थितियां बनी होंगी.

Share This Post