सड़क पर नमाज़ पढ़ने वालों के साथ हाथों में हाथ डाल कर खड़ी हुई #Congress . सुनिए इनकी चुनौती

पिछले 20 अप्रैल को गुरुग्राम के सेक्टर 53 में खाली जगह पर नमाज पढ़ लोगों को हिन्दू हिन्दू कार्यकर्ताओं को भगा दिया था. इन हिन्दू कार्यकर्ताओं का कहना था कि नमाजियों ने इस दौरान हिंदुस्तान मुर्दाबाद तथा पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे तथा खाली जमीन पर नमाज के बहाने ये लोग लैंड जिहाद करते हैं तथा जमीन कब्जाते हैं, जिसे हिंदू समाज कभी स्वीकार नहीं करेगा. सोशल मीडिया पर ये वीडियो वायरल होने के बाद बवाल मच गया था जिसके बाद इन हिन्दू कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था, जिसके बाद 6 हिन्दू कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था. हालांकि अब वह सभी हिन्दू कार्यकर्ता जमानत पा चुके हैं.

खुले में नमाज पढ़ने पर मचे बवाल के बीच कांग्रेस पार्टी ने कुछ ऐसा किया है जिससे कांग्रेस पार्टी एक बार फिर से हिन्दू सँगठनों के निशाने पर आ सकती है. कांग्रेस पार्टी खुले में नमाज पढ़ने वालों के हाथों में हाथ डालकर खड़ी हो गई है तथा उसने न सिर्फ खुले में नमाज पढ़ने का समर्थन किया है बल्कि इसके लिए बाकायदा ज्ञापन दिया है कि प्रशासन इसके लिए सुरक्षा मुहैया कराए. कल गुरुग्राम में स्थानीय कांग्रेसी नेता प्रदीप जैलदारनमाजियों के साथ मिलकर गुरुग्रं पुलिस कमिश्नर से मुलाकात की तथा उनको ज्ञापन दिया. इस ज्ञापन में कांग्रेसी नेता के सहयोग से नमाजियों से कमिश्नर से खुले में नमाज पढ़ने की अनुमति माँगी है तथा कहा है कि इस दौरान प्रशासन सुरक्षा मुहैया भी कराए. इन लोगों को कहना है कि खुले में नमाज पढी जायेगी.

बता दें कि 20 अप्रैल को हुए विवाद के बाद 4 अप्रैल को जुम्मे की नमाज क दौरान एक बार से गुरुग्राम में हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे थे तथा लगभग 10 जगह खुले में नमाज को पढ़ने से रोका था. इन हिन्दू कार्यकर्ताओं का कहना है कि नमाज पढ़ने के लिए मस्जिदें बनी हुई हैं, अतः मस्जिद में नमाज पढ़ें, खुले मैदान में या किसी सरकारी जगह पर नहीं.

Share This Post