अब तो कांग्रेस ने भी माना कि जायज है कश्मीर की आजादी की मांग.. चौंक कर देख रहा है पूरा राष्ट्र इस राजनीति को

एक बार फिर से सामने आया है कांग्रेस पार्टी की तरफ से देश को बाँटने वाला बयान जिसे सुन आक्रोश से भर उठा है हर राष्ट्रवादी. कोंग्रेस ने कश्मीर की आजादी की वकालत की है तथा कहा है कि कश्मीर को आजाद कर देना चाहिए. एक तरफ जहाँ भारतीय सेना के जांबाज जवान हिंदुस्तान की एकता, अखण्डता के लिए अपनी जान गँवा रहे हैं लेकिन शायद कांग्रेस पार्टी को इन जवानों के बलिदान से कोई फर्क नहीं पड़ता है यही कारण है कि कांग्रेस हिंदुस्तान के टुकड़े करना चाहती है. कांग्रेस पार्टी की मांग से पूरा राष्ट्र सन्न रह गया है तथा हर तरफ से एक ही आवाज उठ रही है कि ऐसी कौन सी राजनीती हैं जो देश के टुकड़े करने की बात करती है?

आपको बता दें कि कश्मीर से कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता सैफुद्दीन सोज ने कश्मीर की आजादी आवाज उठाई है. कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज ने शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि कश्मीर के लोगों की पहली प्राथमिकता आजादी पाना है. सैफुद्दीन सोज ने कहा कि कश्मीर के लोग हर हाल में भारत से आजादी चाहते हैं. सैफुद्दीन सोज ने कहा कि में कश्मीर के लोगों कि तरफ से ये कहना चाहता हूँ कि कश्मीरियों ने तय कर लिया है कि उन्हें हर हाल में भारत से आजादी चाहिए. आपको बता दें कि सैफुद्दीन सोज कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता है तथा केंद्र में मनोहन सिंह की सरकार में केंद्रीय मंत्री भी रह चुके हैं.

सैफुद्दीन सोज के इस बयान पर देश की राष्ट्रवादी जनता का गुस्सा कांग्रेस पार्टी पर फुट पड़ा है तथा कांग्रेस कि जमकर आलोचना की जा रही है. लोगों का कहना है कि जब देश की जनता ने कांग्रेस पार्टी को नकार दिया है तो कांग्रेस पार्टी अब देश को तोड़ने की बात करने लगी है. कांग्रेस नेता द्वारा कश्मीर की आजादी कि बात करना उन जांबाज जवानों के बलिदान पर सवाल उठाना है जिन्होंने देश के दुश्मनों से लड़ते हुए अपने सीने पर गोली खाई लेकिन भारतमाता के मणिमुकुट कश्मीर पर खरोच तक न आने दी लेकिन कांग्रेस जवानों के बलिदान को रौंदते हुए कश्मीर को हिंदुस्तान से अलग करने की बात कर रही है.

Share This Post