“हम जैसी पीड़िताओं या अन्याय की शिकार महिलाओं के लिए सिर्फ एक पार्टी है”.. किस पार्टी का नाम लिया आयरन लेडी बनती जा रही शायरा बानो ने

शायरा बानो– एक ऐसा चिर परिचित चेहरा जो पुरुषप्रधान इस्लामिक कट्टरपंथियों की किरकिरी बना हुआ है, वहीं मुस्लिम महिलाओं के लिए शायरा बानो एक आयरन लेडी के रूप में उभरकर सामने आयी हैं. इस्लाम में महिलाओं केऊपर होते अत्याचारों के खिलाफ प्रखर आवाज उठाने वाली शायरा बानो अब राजनीती में जाने की तैयारी में हैं तथा उन्होंने बता दिया है कि वह किस राजनैतिक दल से जुड़ेंगी. जिस दल से शायरा बानो जुड़ें वाली हैं वह दल है भारतीय जनता पार्टी.

तीन तलाक के खिलाफ पर लड़ाई शुरू करने वाली उत्तराखंड की शायरा बानो भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन कर सकती है. इस सिलसिले में बानो ने शुक्रवार को अपने पिता इकबाल अहमद के साथ उत्तराखंड भाजपा राज्य अध्यक्ष अजय भट्ट से मुलाकात की. अजय भट्ट से मुलाकात के दौरान उन्होंने भारतीय जनता पार्टी से जुड़ने की अपनी ख्वाहिश जाहिर की. भट्ट ने कहा, ‘बानो ने आज मुझसे मुलाकात की थी. अब वह विश्वभर में चेहरा बन गई हैं और हमारी पार्टी में उनका स्वागत करने में हमें काफी खुशी होगी. बता दें कि अजय भट्ट से मुलाक़ात के दौरान शायरा बानो ने कहा था कि उनके जैसी देशभर की करोड़ों महिलाओं की समस्याओं को अगर कोई राजनैतिक पार्टी दूर कर सकती है, महिलाओं को दी जाने वाली अंतहीन प्रताड़ना से कोई राजनैतिक पार्टी मुक्त करा सकती है तो वह भारतीय जनता पार्टी है तथा अब वह भारतीय जनता पार्टी के साथ जुड़कर महिलाओं के अधिकारों की लड़ाई लड़ेंगी.

गौरतलब है कि शायरा बानो ने साल 2016 में सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक के खिलाफ याचिका डाली थी. बानो ने मांग की थी कि उनके पति द्वारा उन्हें दिए गए तीन तलाक को खारिज किया जाए. इसके बाद इनकी याचिका में इनके साथ चार अन्य महिलाएं भी जुड़ गई थीं. भारतीय मुस्लिम महिला आंदोलन इस मामले में छठा याचिकर्ता था. अगस्त 2017 में सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक करार दिया था. बानो ने बताया, ‘मैंने भाजपा नेताओं से मुलाकात की और उनसे पार्टी के साथ जुड़ने की ख्वाहिश जाहिर की.’ भाजपा की तारीफ करते हुए बानो ने बताया, ‘हमें नरेंद्र मोदी की ही सपोर्ट थी, जिसकी हमें न्याय मिला.’ बानो ने बताया कि मुस्लिम समुदाय में तीन तलाक, निकाह हलाला और असमान संपत्ति अधिकार जैसे रस्मों के आधार पर हमेशा से महिलाओं पर अत्याचार होता आया है, लेकिन मोदी सरकार में महिलाओं को न्याय मिला है तथा बाकी परेशानी भी जल्द दूर होंगी.

Share This Post