“आज हम कम हैं तो आप हम पर हंस रहे हैं , याद रखना कल पूरे भारत में हमारी सरकार होगी , उस दिन देश आप पर हंसेगा” ..

यकीनन संसद में फिर से वो शब्द कर्णभेदी घंटे के समान गूंजने लगे होंगे .. वो सीट एक बार फ़िर से जीवंत हो चुकी होगी जिस से दिया गया था ये भाषण और कही गयी थी ये बात . कौन था दूरदृष्टा ये इन शब्दों से पता चलता है .. उन्हें आने वाले समय की जानकारी थी . उन्होंने भांप लिया था जनता के मन में हिलोरे ले रहे ज्वार को .. बेहद स्वाभिमान और अटल इरादों से बोले गये थे वो शब्द जिसे पूरे भारत ने सुना और माना था केवल कुछ उन राजनेताओं को छोड़ कर जिन्होंने खुद को सत्ता का ऐसा शहंशाह मान लिया था की न सिर्फ आज़ादी बल्कि सत्ता भी उनके ही घर परिवार की धरोहर है ..

आज से 21 साल पहले साल 1997 में अटल बिहार वाजपेयी ने संसद में कहा था- “मेरी बात को गांठ बांध लें, आज हमारे कम सदस्य होने पर आप (कांग्रेस) हंस रहे हैं लेकिन वो दिन आएगा जब पूरे भारत में हमारी सरकार होगी, उस दिन देश आप पर हंसेगा और आपका मजाक उड़ायेगा।”  सदन में वाजपेयी ने डॉक्टर शिव मंगल सिंह ‘सुमन’ की इस कविता का पाठ करते हुए तब कांग्रेस और अन्य दलों के नेताओं को चेतावनी दी थी, लेकिन उनकी चेतावनी को तब कांग्रेस और अन्य दलों के नेताओं ने गंभीरता से नहीं लिया और नतीजा सबके सामने है। आज अंतिम विदाई के दिन उस महान व्यक्तित्व के वो शब्द एक बार फिर से जीवंत होते देख रहा है राष्ट्र ..

पिछले दिनों प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा था कि एक वक्त ऐसा भी था जब हमें मीडिया में कवरेज नहीं मिलता था और लोगों को बुलाना पड़ता था। ये वो राजनेता थे जिनकी चप्पलें पहने तस्वीरें आम जनता के साथ झंडे ले कर सडको पर पैदल चलते हुए आज भी देखी जा सकती हैं . एक एक व्यक्ति को जोड़ कर बनाई थी वो पार्टी.. चुनौती थी उनसे जिनके कपड़े और प्रेम पत्र भी वायुयान से आया जाया करते थे .. लेकिन उन्हें विश्वास था अपने कर्म पर क्योकि वो श्रीमद्भागवत गीता के बारे में अक्सर बात किया करते थे . उन्होंने अपने कर्म को प्रधान किया और उसकी कर्म की प्रधानता ने उन्हें प्रधानमन्त्री बनाया था ..  आज अंतिम यात्रा में उनके न सिर्फ यही बल्कि वो तमाम शब्द ये एहसास दिलाएंगे की वो शरीर भले ही अब नहीं है पर वो आवाज और एहसास सदा सदा अनंत काल तक रहेगा .. 


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share