“शरिया का समर्थन करने वाले राहुल गांधी करें 4 लड़कियों से निकाह, अगर नहीं करते तो उनके घर पहुंचेगी बरात”- मुस्लिम महिला की चुनौती

राज्यसभा में तीन तलाक बिल के खिलाफ छाती ठोंककर खड़ी होने वाली कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को ललकारा है एक मुस्लिम महिला ने तथा कहा है कि अगर राहुल गांधी शरिया समर्थक हैं तो फिर वह ४ महिलाओं से निकाह करें. बहुविवाह, हलाला को असंवैधानिक करार देने को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने वाली डॉ. समीना का कहना है कि राहुल गांधी सहित महागठबंधन के नेता तीन तलाक संबंधी बिल में रोड़ा अटका रहे हैं. राहुल गांधी यदि बिल पास कराने में सहयोग नहीं करते तो इसका अर्थ है कि वह शरिया कानून और बहुविवाह का समर्थन करते हैं. ऐसे में उन्हें तलाक पीडि़त चार महिलाओं से शादी करनी चाहिए तथा यदि राहुल गांधी ऐसा नहीं करते तो वे खुद बरात लेकर उनके घर जाएंगी.

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में पत्रकार वार्ता में संभल की मूल निवासी डॉ. समीना ने कहा कि वह खुद दो बार तीन तलाक की पीडि़ता हैं. उन्होंने व छह अन्य महिलाओं ने बहुविवाह, निकाह-हलाला को असंवैधानिक करार देने को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर रखी है. इनमें बुलंदशहर के गांव जौलीगढ़ निवासी रानी शबनम और सिकंदराबाद निवासी फरजाना भी शामिल हैं. तीन तलाक संबंधी बिल को संसद में पारित होने से रोकने के लिए ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड, देवबंद समर्थक और महागठबंधन के नेता एकमत हैं.  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी उनमें शामिल हैं.

समीना ने कहा कि राहुल गांधी यदि शरिया कानून और बहुविवाह के समर्थक हैं तो उन्हें कथित तौर पर जायज बताई जाने वाली चार शादियां तलाक पीडि़त महिलाओं से करनी चाहिए. उनके ऐसा न करने पर वह खुद तलाक पीडि़ताओं के साथ बरात लेकर उनके घर पहुंचेंगी. राहुल के अलावा अखिलेश यादव को भी ऐसा करना चाहिए. डॉ. समीना ने स्पष्ट किया कि उनका किसी राजनीतिक दल से संबंध नहीं है हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुस्लिम महिला हितों के लिए सकारात्मक कदम उठा रहे हैं तथा मुस्लिम महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए मोदी जी का समर्थन करना चाहिए तथा जो लोग तीन तलाक बिल के खिलाफ हैं वह सभी शरिया समर्थक हैं.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share