एक नारी की ही आवाज… कठुआ के बाद असम, बिहार और ठाणे में भी निकाला जाये कैंडिल मार्च


कठुआ तथा उन्नाव रेप केस को लेकर इस समय देशभर में बबाल मचा हुआ है. देश की भाजपा विरोधी पार्टियाँ इस समय भाजपा पर हमलावर हैं तथा रेप के नाम पर अपनी राजनैतिक रोटियां सेंकने की पूरी कोशिश कर रही हैं. कठुआ में 8 वर्षीय बच्ची के साथ हुई बर्बरता के मामले में अप्रत्यक्ष रूप से समस्त हिन्दू समुदाय को ही दोषी ठहराने की कोशिश की जा रही है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पिछले दिनों मिडनाइट कैंडल मार्च भी निकाला. देश में बलात्कार पर राजनीति कर रहे लोगों पर एक महिला वो भी मुस्लिम समुदाय की महिला रूमाना सिद्दीकी ने करारा प्रहार किया है कि देश का माहौल ख़राब करने के लिए एक साजिश के तहत कठुआ रेप केस के बहाने हिन्दू समाज को बलात्कारी बताने की कोशिश की जा रही है.

बलात्कार के उपर हो रही राजनीति को लेकर रूमाना सिद्दीकी ने कहा कि बलात्कारियों को धर्म से जोड़ना निहायत घटिया राजनीती की पराकाष्ठा है. उन्होंने कहा कि मंदिर से लाश का संबध जुड़ने मात्र से हिन्दुओं को ही बलात्कारी कहना राजनेताओं की सबसे ज्यादा घटिया तथा विकृत मानसिकता का परिचायक है. उन्होंने कहा कि कठुआ और उन्नाव में बलात्कार के आरोपी में आपको हिन्दू ओर भाजपाई दिखने लगे तो याद करिएगा फिर मुझे आपको ठाणे की 5 साल की लड़की का बलात्कारी आरोपी मौलवी की याद दिलानी पड़ेगी . फिर मैं आपको दिल्ली के 70 साल के मदरसा मुसलमान टीचर द्वारा 9 साल को बच्ची का रेप और हत्या याद दिलवाऊंगी.

रूमाना सिद्दीकी ने कहा में आपको राजस्थान के मदरसा अध्यापक ओर उसके दोस्त द्वारा 16 साल लड़की का बलात्कार की याद दिलाती हूँ जिन्होंने बेरहमी के साथ बच्ची के जीवन को रौंदा था. रूमाना सिद्दीकी ने कहा कि में आपको वो केरल का पादरी की याद दिलाती हूँ जिसने 16 साल की लड़की का बलात्कार कर के उसे जला के मार डाला. असम के नागांव जिले में 9 साल की हिन्दू लड़की का बलात्कार 3 मुस्लिम लड़कों ने रेप कर के जिंदा जला कर मार डाला .असम के नगांव जिले में 8 दिन के अंदर की यह घटना है बलात्कार की और आश्चर्यजनक रूप से सभी बलात्कार के आरोपी मुसलमान हैं.

रूमाना सिद्दीकी ने कहा कि एक महीने में 6 हिन्दू लड़कियों का बलात्कार कर के मार कर फेंक दिया गया असम में तब आपके मुंह में दही जमी थी? बिहार में 6 साल की लड़की का बलात्कार कर हत्या कर दी 40 साल के मोहम्मद मेराज आलम ने, तब क्या मुँह में दही जम रही थी या जमीर गंवारा नही किया कि मुसलमानो के खिलाफ बोलूं. रूमाना सिद्दीकी ने करारा हमला करते हुए कहा कि मत उतरिये उस पे की आपका कच्छा दूसरे उतारें. एक कठुआ तथा उन्नाव की घटना के कारण पूरे समुदाय तथा पार्टी को बलात्कारी कहने वालों को याद रखना चाहिए कि एक हैं कई मौलाना/मौलवी तथा पादरी मिल जायेंगे जिन्होंने मासूम बच्चियों के जीवन को अपने हवस की भूख में लील लिया.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मिडनाईट कैंडल मार्च को रूमाना सिद्दीकी ने गंदी राजनीति करार दिया. रूमाना सिद्दीकी ने कहा कि जिन लोगों ने कठुआ के लिए इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकाला वो लोग बिहार के सासाराम में मेराज आलम की दरिंदगी के खिलाफ कब कैंडल मार्च निकालेंगे.  कब ये ठाणे जाक्र कैंडल मार्च निकालेंगे जहाँ एक मौलवी ने 5 साल की बच्ची के साथ बलात्कार किया? इन लोगों ने दिल्ली के नरेला में एक मदरसा के 70 वर्षीय मौलवी मौलवी द्वारा 8 साल की बच्ची के साथ बलात्कार के विरोध में कैंडल मार्च निकाला? आखिर कब ये लोग बिहार, असम, मुंबई जायेंगे तथा उन बच्चियों के बलात्कार के खिलाफ कैंडल मार्च निकालेंगे जिनके आरोपी मुसलमान हैं?


 


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...