पूरी जिन्दगी जिस वामपंथी पार्टी को मेरे वामपंथी पिता ने दिया, उसने ही किया उन्हें अपमानित – प्रताप चटर्जी

अचानक ही कई वर्षों पुराना दर्द फूट पड़ा उस बेटे का जिसने अपने पिता को जीवन का एक एक पल वामपंथी पार्टी को देते हुए देखा था . उस बेटे ने अपने पिता के अंतिम संस्कार में आये तमाम वामपंथी नेताओं को ऐसे दर्द भरे मौके पर टोका तो यकीनन उनके मन में कुछ तो ऐसा रहा होगा जो उसे अपने पिता की मृत्यु के दर्द से भी ज्यादा परेशान कर रहा होगा . मन का गुबार आख़िरकार भीड़ में सबके सामने ही फूट पड़ा .

ज्ञात हो की बंगाल के कद्दावर वामपंथी नेता सोमनाथ चटर्जी के देहांत के बाद उनके अंतिम संस्कार के लिए तमाम वामपंथी नेताओं के जमावड़े को उनके बेटे प्रताप चटर्जी ने ही टोक दिया .. प्रताप चटर्जी ने सबके बीच में साफ़ साफ़ कहा की उन्हें नकली आंसू बहाने की कोई जरूरत नहीं है क्योकि जब तक उनके वामपंथी पिता जीवित थे तब तक उन्हें उनकी उसी पार्टी से तिरस्कृत किया गया जिसके लिए उन्होंने अपने जीवन का एक एक पल समर्पित कर दिया . 

ध्यान देने योग्य है की सोमनाथ चटर्जी को कुछ समय पहले CPI से निष्काषित कर दिया गया था जिस से चटर्जी को काफी झटका लगा था . उनके बेटे प्रताप ने अपने पिता के अंतिम समय में इस आवाज को उठा कर वामपंथियो से ऐसा सवाल किया है जिसका जवाब उनके पास शायद ही हो … इस भरी सभा में ऐसा सवाल करने से तमाम बड़े वामपंथी नेता निरुत्तर हो गये और जल्दी से जल्दी अपने अपने गन्तव्य को लौट गये ..  

Share This Post