Breaking News:

गद्दार है अमर्त्य सेन, सोनिया के दबाव में मिला पुरष्कार – स्वामी

अपने फायरब्रांड बयानों के लिए मशहूर और भाजपा के सबसे तेजतर्रार नेताओं की लिस्ट में पहले नम्बर पर आने वाले भारतीय जनता पार्टी के नेता व राज्यसभा सांसद श्री सुब्रह्मण्यम स्वामी ने आये दिन हिन्दू और सरकार विरोधी बयान देने वाले अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन पर बड़ा आरोप लगाते हुए उनको सीधे सीधे गद्दार तक कह डाला है . समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, स्वामी ने कहा कि, RSS के लोग भी भारत के नागरिक हैं। उन्होंने देश के लिए बहुत काम किया है लेकिन उन्हें उतना सम्मान नहीं मिल पाया है।

RSS के लोगों ने देश के लिए बिना किसी मतलब के काम किया है लेकिन NDA ने अमर्त्य सेन को भारत रत्न से नवाजा जो कि गद्दार है।  इस मुद्दे पर बोलते हुए श्री स्वामी ने कहा कि, उन्हें केवल इसलिए भारत रत्न मिला है क्योंकि वह लेफ्ट विंग को सपोर्ट करते हैं. सबसे ख़ास बात ये रही कि इस मुद्दे पर उन्होंने सोनिया गांधी तक का नाम बीच में लिया और रहस्योद्घाटन करनते हुए बताया कि उन्हें अवार्ड देने के लिए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दबाव बनाया था।

यहाँ ध्यान रखने योग्य हैं कि अमर्त्य सेन को साल 1999 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया था। स्वामी ने यह बयान उस समय दिया जब सरकार ने पद्म पुरस्कार के लिए लोगों के नामों का ऐलान किया था। जिसके बाद कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि सरकार RSS के नेताओं को सम्मानित कर रहा है।  कांग्रेस के इस आरोप के चलते स्वामी ने यह प्रतिक्रिया दी। स्वामी ने ट्वीट कर पद्म अवार्ड्स पाने वाले गणमान्य लोगों में से पांच लोगों पर सवाल खड़ा किया था, जिनमें आरएसएस नेता वेद प्रकाश नंदा और केरल आरएसएस प्रचारक चीफ पी परमेश्वर के नाम भी शामिल थे।

Share This Post

Leave a Reply