क्या 11 मिलियन डॉलर भरने के बाद भी किसी विश्वविद्यालय ने राहुल गांधी ने मात्र 3 माह में निकाल दिया था… एक नये खुलासे से राजनीति गर्म

राहुल गांधी जो हिन्दुस्तान के प्रधानमंत्री बनने का दम भर रहे हैं, जो मंदिर मंदिर घूमकर खुद को जनेऊधारी हिन्दू बता रहे हैं, वास्तविक हकीकत ये है कि राहुल गांधी के पिता राजीव गांधी ने ११ मिलियन डॉलर देकर हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में प्रवेश दिलाया था. राजीव गांधी ने सोचा था कि राहुल गांधी हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में अच्छे से पढ़ाई करेगा, आगे बढ़ेगा. लेकिन ऐसा नहीं हुआ तथा हार्वर्ड यूनिवर्सिटी ने राहुल गांधी को तीन महीने के बाद ही यूनिवर्सिटी से बाहर निकाल दिया था.

राहुल गांधी पर ये सनसनीखेज आरोप भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड नेता तथा राजयसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने लगाया है. इसके अलावा स्वामी के अनुसार राहुल गांधी का वास्तविक रौल विंची है तथा हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में इसी नाम से राहुल गांधी को प्रवेश दिलाया गया था. राजयसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि रौल विन्ची नाम से राहुल गांधी के पिता तथा हिन्दुस्तान के तत्कालीन प्रधानमन्त्री राजीव गाँधी ने अपने बेटे का नाम हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में लिखवाया था.  इसके लिए राजीव राजीव गांधी ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी को 11 मिलियन डॉलर डोनेशन दिए गए थे लेकिन रौल विन्ची उर्फ़ राहुल गाँधी को महज तीन महीने में ही यूनिवर्सिटी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया था. बता दें कि सुब्रमण्यम स्वामी तथा गांधी परिवार के बीच अदावत किसी से छिपी नहीं है तथा स्वामी अक्सर गांधी परिवार के बारे में ऐसे सनसनीखेज खुलासे करते रहते हैं जो उनके अनुसार सामने नहीं लाये गए है. सुब्रमण्यम स्वामी राहुल गांधी की मां तथा पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिआ गांधी को लेकर भी ऐसे कई खुलासे कर चुके हैं.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share