पंजाब में इस्लामिक उलेमाओं की हुंकार.. बोले कुरान और इस्लाम की बेअदबी हुई तो भयानक होंगे अंजाम

कानून अपना काम कर रही है इसके बावजूद भी शाही इमाम मौलाना धमकी देने पर उतर आये। बता दें कि कुरआन के साथ हुई बेअदबी पर कानून अपनी तरफ से जाँच कर रही है लेकिन शाही मौलाना अपनी बेफिज़ूल धमकी देने से बाज नहीं आ रहे है।

सोमवार को जमा मस्जिद में रोष मीटिंग के दौरान प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर पंजाब के शाही इमाम मौलाना हबीब उर रहमान सानी लुधियानवी ने चेतावनी दी है कि बीते दिनों मलेरकोटला में शरारती तत्वों की ओर से पवित्र कुरआन शरीफ के साथ की गई बेअदबी को हरगिज सहन नहीं किया जाएगा। शाही इमाम ने बयान जारी करते हुए कहा कि इस मामले में कोई भी गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।  
उन्होंने यह भी बयान में कहा कि मलेरकोटला में एक बार फिर से कुरआन शरीफ की बेअदबी से यह बात स्पष्ट हो गई है कि शरारती तत्व और सांप्रदायिक ताकतें पंजाब की अमन-शांति भंग करना चाहती हैं। शाही इमाम ने कहा कि पंजाब आपसी भाईचारे का प्रतीक है, प्रदेश के अमन को खराब नहीं होने दिया जाएगा। इस मौके पर उन्होंने आपसी भाईचारे से शांति बनाए रखने की अपील की। जानकारी के मुताबिक, जामा मस्जिद में हुई रोष मीटिंग में नायब शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उसमान रहमानी, गुलाम हसन कैसर, मुस्तकीम अहरारी, मुहम्मद शाह नवाज, बाबुल खान, अकरम अली विशेष रूप में उपस्थित थे।  
Share This Post

Leave a Reply