अब रेलवे अपनाएगी ये तकनीक , यात्रियों के लिए खुशखबरी..


ट्रेन से यात्रा करने वाले लोगों को हमेशा आरक्षित सीटें नहीं मिलने की शिकायत रहती है, लेकिन अक्टूबर से रेल यात्रियों की यह शिकायत कुछ हद तक दूर होने की उम्मीद की गई है. अक्टूबर से ट्रेनों में रोजाना अतिरिक्त चार लाख सीटें मिलेंगी.
यह सब संभव होगा नई तकनीक को अपनाने से.  इस तकनीक के जरिए ट्रेन में ओवरहेड तार से बिजली सप्लाई की जाएगी और जनरेटर कोच की जगह स्लीपर कोच लगेंगे. बुधवार को यह जानकारी अधिकारीयों द्वारा दी गई है.

दर्जनों बच्चियों का बलात्कार करके मदरसा प्रिंसिपल बोला- “मैंने इन पर एहसान किया है” .. बताई बलात्कार की उसके अनुसार वजह

आपको  बताते हैं कि ऐसा कैसे संभव होगा. अभी ज्यादातर ट्रेनों में दो जनरेटर कोच लगे होते हैं, जिसमें से एक से डिब्बों में बिजली सप्लाई की जाती है और दूसरे को रिजर्व में रखा जाता है. भारतीय रेल अब नई तकनीक अपना रही है, जिसे; हेड ऑन जनरेशन; के नाम से जाता है.

राष्ट्रभक्तों के हीरो बने बिजनौर के साहसी और जांबाज़ पुलिस अधीक्षक IPS संजीव त्यागी जिनके निर्देश में पुलिस ने मदरसे में मारा छापा और बरामद किये हथियार

इसमें इलेक्ट्रिक इंजन को जिस ओवरहेड तार से बिजली की सप्लाई की जाती है, उसी तार से डिब्बों में भी बिजली दी जाएगी. पैंटोग्राफ नामक उपकरण लगाकर इंजन के जरिए ही ओवरहेड तार से डिब्बों में बिजली सप्लाई की जाएगी. इससे ट्रेन में जनरेटर कोच की जरूरत नहीं रह जाएगी.  हालांकि, आपात स्थिति के लिए एक जनरेटर कोच ट्रेन में लगा रहेगा. एक जनरेटर कोच की जगह स्लीपर कोच लगाया जाएगा. इस तरह ट्रेन को लंबा बढ़ाए बिना ही एक कोच बढ़ जाएगा.

बंगाल में पकड़ा गया बांग्लादेशियों के लिए पकड़ा गया हथियार.. नकली सेक्यूलरिज्म एक नई दिशा दे रहा देश को

रेल मंत्री पियूष गोयल ने सदन को बताया है कि पिछले एक दशक में रेलवे में 4.61 लाख से ज्यादा लोगों को नियुक्त किया गया है. उन्होंने कहा कि रिक्त पदों पर बहाली एक सतीत प्रक्रिया है. मंत्री ने बताया कि 1991 में रेलवे में 16.54 लाख कर्मचारी थे जो 2019 में घटकर 12.48 लाख रह गये, लेकिन इससे रेलवे कि सेवा पर कोई असर नहीं हुआ है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...