कांग्रेस द्वारा लगाये गये आरोपों पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दिया जवाब….

कर्नाटक पर संकट के बादल मंडरा रहे है. कांग्रेस के 21 मंत्रियो ने अपने पद से सोमवार को इस्तीफा सौंप दिया. कांग्रेस में एच डी कुमारस्वामी की अगुवाई वाली कांग्रेस-जनता दल (एस) गठबंधन सरकार का संकट सोमवार को उस समय और गहरा हो गया जब निर्दलीय विधायक एवं मंत्री एच नागेश ने मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है. वही दूसरी तरफ कांग्रेस ने इस मामले पर लोकसभा में सवाल उठाया तो रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने दिया जवाब.

8 जुलाई- कारगिल युद्ध की “टाइगर हिल” विजय वर्षगांठ.. कई बलिदान के बाद यहां लहराया था भारत का ध्वज

राजनाथ सिंह ने कहा कर्नाटक में जो भी हो रहा है उससे हमारे पार्टी का कोई लेना देना नहीं है. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी खरीद फरोख्त में कभी शामिल नहीं रही है.  उन्होंने कहा कि हम संसदीय लोकतंत्र की गरिमा बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं.  इस्तीफे देने की प्रवृत्ति कांग्रेस में राहुल गांधी द्वारा शुरू की गई थी, यह हमारे द्वारा शुरू नहीं किया गया था. उन्होंने खुद लोगों से इस्तीफे जमा करने के लिए कहा, यहां तक ​​की वरिष्ठ नेता भी इस्तीफे सौंप रहे हैं.

अब नहीं रहेगी देश में पानी की किल्लत, जल शक्ति मंत्रालय करेगा ये काम..

सोमवर को नागेश ने राज्यपाल वजुभाई आर वाला से मुलाकात कर गठबंधन सरकार से समर्थन वापस लेने का पत्र उन्हें सौंपा. राज्यपाल ने इसे तुरंत स्वीकार कर लिया है.  मुलबागल से विधायक नागेश ने पत्र में लिखा, “मैं इस पत्र के माध्यम से आपको सूचित करना चाहूंगा कि मैंने एच डी कुमारस्वामी की अगुवाई वाली सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया है. इसे देखते हुए आप उचित कार्रवाई कर सकते हैं”.

मिशन “दक्षिण भारत” में जुटेंगे अमित शाह, तेलंगाना के लिए बनाया ये प्लान…

गठबंधन सरकार में कुमारस्वामी ने नागेश के अलावा राणेबेन्नूस सीट से निर्दलीय विधायक आर शंकर को भी मंत्रिमंडल में शामिल किया था जिससे कि उनकी सरकार स्थिर बनी रहे.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW