Breaking News:

6 साल की बच्ची का पहले बलात्कार हुआ, फिर गर्दन तालिबानी अंदाज में काटी, फिर सर पर हथौड़ा मारा.. जानिये इस दरिन्दे का नाम

अभी तक ऐसी हैवानियत की ख़बरें सीरिया, लीबिया या फिर तालिबान तथा ISIS जैसे इस्लामिक आतंकी संगठनों से ही सामने आती थीं. लेकिन ये घटना न तो किसी इस्लामिक मुल्क की है और न ही ही इसे तालिबान या ISIS ने अंजाम दिया है बल्कि ये घटना है उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की जहाँ हैवान दरिन्दे अराफात ने 6 साल की मासूम बच्ची का पहले बलात्कार किया, फिर तलवार से गर्दन काटी, इसके बाद सर पर हथौड़े से वार किया. मासूम के साथ हुई बर्बरता को जिसने भी देखा, उसकी रूह कांप गई.

खबर के मुताबिक़, मासूम के साथ बर्बरता को अंजाम देने वाले अराफात मिर्जा उर्फ़ बबलू को पुलिस ने जेल भेज दिया. देर शाम आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची के साथ रेप किए जाने की पुष्टि हुई है. रिपोर्ट के मुताबिक बच्ची की मौत गला दबाने और दम घुटने से हो गई थी. पर, यह सुनिश्चित करने के लिए की बच्ची मर गई है, बबलू ने उस पर हमला जारी रखा. उसने हथौड़े से बच्ची के माथे और आंख पर वार किया. इसके बाद चाकू से उसका गला रेत दिया था. पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर भी शरीर के जख्म देख सकते में आ गए.

एएसपी पश्चिम विकास चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि आरोपी बबलू उर्फ अराफत से देर रात तक पूछताछ की गई. इस दौरान उसने जुर्म कबूल लिया. पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल चाकू और हथौड़ा बरामद कर लिया. पुलिस ने उसके कपड़े बरामद कर लिए हैं, जिन पर बच्ची का खून लगा है. उसने तौलिया से फर्श पर फैला खून भी साफ किया था. पुलिस ने यह तौलिया भी बरामद कर लिया है. इन सभी चीजों को विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा गया है.

बच्ची का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों के मुताबिक बच्ची का गला व मुंह दबाया गया था, जिससे उसका दम घुट गया था. उसके माथे और दाहिनीं आंख की भौंहों के पास हथौड़े की चोट के गहरे निशान मिले हैं. उसकी गर्दन पर साढ़े छह सेंटीमीटर का ढाई इंच गहरा कट मिला है. बच्ची के सीने, जांघ और पीठ पर भी हलकी चोटों के निशान मिले हैं. इससे प्रतीत होता है कि आरोपी ने उसे बुरी तरह मारापीटा था. बच्ची के नाजुक अंगों में चोट के निशान मिले हैं. फोरेंसिक जांच के लिए स्वाब बनाया गया है.

दोपहर में सआदतगंज पुलिस दरिन्दे अराफात को लेकर कोर्ट पहुंची. पुलिस उसे गैलरी से ले जा रही थी, तभी वकीलों ने उस पर हमला कर दिया. हालांकि, पुलिस ने उसे तुरन्त ही बचा लिया. उसे 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया है. एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि बबलू के खिलाफ दुष्कर्म, हत्या व पोक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. अकाट्य साक्ष्यों की मदद से आरोपी को कठोर सजा दिलाई जाएगी. इसका मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाएगा.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं–

 

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW