इस्लामिक आतंकियों के बाद अब दुर्दांत नक्सलियों का नंबर.. ढेर कर दिया गया 8 लाख का कुख्यात नक्सली

एकतरफ भारतीय सुरक्षाबलों के जवान जम्मू कश्मीर में देश के दुश्मन इस्लामिक आतंकियों के खात्मे के लिए अभियान चलाए हुए हैं तो वहीं दूसरी तरफ गद्दार नक्सलियों के खिलाफ भी देश के सुरक्षाबलों ने अभियान तेज कर दिया गया है. देश की आन्तरिक सुरक्षा के लिए खतरा बने नक्सली भी अब भारतीय सुरक्षाबलों के शौर्य तथा पराक्रम के कारण घुटने टेक रहे हैं. नक्सलियों के खिलाफ अभियान चला रहे भारतीय सुरक्षाबलों तथा पुलिस ने साफ़ कर दिया है कि या तो नक्सली हथियार त्याग कर सरेंडर कर दें, या फिर मरने के लिए तैयार रहें.

इसी की बानगी देखने को मिली छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित जिले दंतेवाड़ा में जहाँ राज्य पुलिस के जवानों के 8 लाख के दुर्दांत नक्सली को मार गिराया है. छत्तीसगढ़ पुलिस के जवानों तथा नक्सलियों के बीच ये मुठभेड़ मंगलवार को हुई. इस मुठभेड़ में ही दुर्दांत इनामी नक्सली मारा गया. हालाँकि इस दौरान पुलिस के के जवान ने राष्ट्ररक्षा के लिए अपने प्राणों का बलिदान भी दे दिया. पुलिस के अनुसार नक्सली किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की तैयारी में थे.

पुलिस सूत्रों के अनुसार, कटे कल्याण क्षेत्र में डीआरपी के जवान सर्चिंग पर निकले थे. इसी दौरान तुमकपाल क्षेत्र के पीटेपाल के जंगल में घात लगाए बैठे नक्सलियों ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर दी. दोनों ओर से हुई फायरिंग में एक वर्दीधारी नक्सली मारा गया. मारे गए नक्सली की पहचान आठ लाख रुपये के इनामी देवा मुचाकी के तौर पर हुई है. इस दौरान एक पुलिस जवान भी बलिदान हो गया. पुलिस स्सोत्रों के मुताबिक़, जवान की हार्ट अटैक के चलते मौत हुई. नक्सली के पास से हथियार भी बरामद किए गए हैं. सूत्रों के अनुसार, ये नक्सली किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की तैयारी में थे. पुलिस की सतर्कता के चलते बड़ी वारदात होने से बच गई.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share