रोहान रहता तो है पाकिस्तान में पर उसकी बिमारी से चिंता हुई सुषमा स्वराज को. भारत कराएगा इलाज

पाकिस्तान के एक माता पिता जो अपने बच्चे के इलाज को लेकर काफी चिंतित है। उन्होने मेडिकल वीजा के लिए कई बार आवेदन किया लेकिन वो सफल नहीं हो पाए। पाकिस्तान के कनवाल सादिक ने इस विषय पर ट्वीट किया और उस ट्वीट का जवाब देते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा चिंता न करें रोहान को कुछ नही होगा।

जिसके तुरंत बाद पाकिस्तानी परिवार के लिए वीजा का आदेश दिया। रोहान के जेपी हॉस्पिटल आने के बाद सबसे प्रख्यात पीडियाट्रिक कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. आशुतोष मारवाह उसकी पूरी जांच करेंगे और इसके बाद विश्व प्रसिद्ध पीडियाट्रिक कार्डियक सर्जन डॉ. राजेश शर्मा एवं उनकी टीम द्वारा ऑपरेशन किया जाएगा।

रोहान बस 4 माह का है उसके दिल में छेद है। रोहान के माता पिता का ये प्रयास था कि उन्हें मेडिकल वीजा मिल जाए और वो भारत के जेपी अस्पताल में अपने बच्चे का इलाज करा सके। आपको बता दें कि तमाम कोशिशों के बाद भी जब वीजा नहीं मिला तो रोहान के पिता कनवाल सादिक ने वीजा प्राप्त करने के लिए ट्विटर के जरिए सुषमा स्वराज से गुहार लगाई। इस पर सुषमा ने इलाज कराने के लिए भारत आने की हामी भर दी।

ट्विटर पर कनवाल का जवाब देते हुए ट्विटर पर सुषमा स्वराज ने कहा कि भले ही दोनों देशों के आपसी संबंध कितने भी तनावपूर्ण हों परंतु इसका प्रभाव रोहान के इलाज पर नहीं पड़ने दिया जाएगा। इसके बाद कनवाल सादिक को पाकिस्तान स्थित भारतीय विदेश मंत्री के कार्यालय में संपर्क करने की सलाह दी गई, जिसके बाद कनवाल को मेडिकल वीजा दे दिया गया।

उधर, जेपी जेपी हॉस्पिटल से संपर्क करने पर जेपी हॉस्पिटल के सीईओ डॉ. मनोज लूथरा ने बताया कि रोहान की सर्जरी के लिए भारत के कई अस्पतालों में से जेपी हॉस्पिटल का चयन किया जाना हमारे लिए बहुत ही सम्मान की बात है। उन्होंने कहा कि रोहान को जिस तरह की बीमारी है, उसका समय पर इलाज होना बहुत जरूरी है। सुषमा स्वराज द्वारा किए गए मानवीय सहयोग के लिए हम उनका दिल से आभार प्रकट करते हैं।

रोहान के जेपी हॉस्पिटल आने के बाद सबसे प्रख्यात पीडियाट्रिक कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. आशुतोष मारवाह उसकी पूरी जांच करेंगे और इसके बाद विश्व प्रसिद्ध पीडियाट्रिक कार्डियक सर्जन डॉ. राजेश शर्मा एवं उनकी टीम द्वारा ऑपरेशन किया जाएगा।

Share This Post