Breaking News:

पुष्पक एक्सप्रेस थी सैफुल्लाह के निशाने पर. यात्रियों की सतर्कता ने बचा ली थी उनकी जान

जिस सैफुल्लाह के लिए विपक्ष ने आसमान सर पर उठा रखा था उस सैफुल्लाह के निशाने पर थी लखनऊ से मुंबई चलने वाली बेहद भीड़ भरी पुष्पक एक्सप्रेस . दुर्दांत आतंकी सैफुल्लाह यदि सफल रहता तो अंजाम बेहद ही भयानक और वीभत्स होता .


भोपाल – उज्जैन पैसेंजर ब्लास्ट के बाद निर्दोष यात्रियों के हत्यारे 3 गिरफ्तार आतंकियों ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को बताया कि ब्लास्ट से ठीक एक दिन पहले उनका इरादा लखनऊ से मुंबई चलने वाली पुष्पक एक्सप्रेस में ब्लास्ट कर के और अधिक निर्दोष यात्रियों की जान लेने का था . आतिफ मुजफ्फर और सैय्यद मीर हुसैन ने पूछताछ के दौरान बताया कि वो अपने खूनी इरादों को अंजाम देने के लिए 6 मार्च को पुष्पक एक्सप्रेस में बारूद के साथ सफ़र कर चुके थे पर भीड़ ज्यादा होने और सतर्क बैठे यात्रियों के कारण वो बारूद भरा बैग अपने साथ ले कर वापस आ गए .


दोनों ने जांच एजेंसी को बताया कि पुष्पक एक्सप्रेस में उन्हें बारूद से भरा बैग कहीं रखने की उचित जगह नहीं मिली और यात्रियों की सतर्कता भी उन्हें ऐसा करने से रोक रही थी , हार कर दोनों 7 तारीख को सुबह भोपाल स्टेशन पर उतर गए और वहीँ उन दोनों ने बम को किसी पैसेंजर ट्रेन में ब्लास्ट करने का इरादा बनाया और इसके लिए उन्होंने भोपाल उज्जैन एक्सप्रेस को चुना. दोनों बारूद से भरा बैग ले कर भोपाल – उज्जैन एक्सप्रेस के आखिरी डिब्बे में मौत का वो सामन रखने में कामयाब हो गए जब वो स्टेशन से लगभग छूट चुकी थी. बैग रखने के बाद दोनों ट्रेन से उतर गए .

बाद में इसी ट्रेन में हुए ब्लास्ट में 10 बेगुनाह लोग बुरी तरह घायल हुए थे. 


सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW