Breaking News:

सलाम करने वाला जावेद तब नमस्ते करता था जब उसे किसी को बनाना होता था अपना शिकार….

नई दिल्ली : अक्सर आप जब भी अपने किसी परिचित या अनजान लोगों से मिलते है तो आप उनसे नमस्ते कहकर उनसे आगे की बातचीत को आगे बढ़ाते है और हमारे देश में भी नमस्ते कहकर लोगों का स्वागत करने की परम्परा रही है लेकिन जब इस परम्परा का भी गलत तरीके से इस्तेमाल होने लगे तब…..
जी हां, आज हम आपको एक ऐसी ही लुटेरी गैंग के बारे में बताने जा रहे है जो कि नमस्ते कहकर लोगों को पहले तो अपने चंगुल में फसाते थे और फिर उनसे लुटपाट कर उनको कंगाल कर जाते थे। दिल्ली पुलिस ने एक ऐसी ही गैंग का पर्दाफाश किया है। यह गैंग लोगों को नमस्ते कर भरोसे में लेता था और वारदात कर फरार हो जाता था। 
पुलिस ने गैंग के चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से पुलिस ने एक पिस्टल जब्त की है। यह गैंग दिल्ली समेत यूपी, हरियाणा और राजस्थान में 76 से ज्यादा वारदात को अंजाम दे चुका था। गैंग का सरगना जावेद उर्फ जेडी है। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने गैंग की घेराबंदी की थी। पुलिस को देखते हुए बदमाशों ने फायरिंग की लेकिन पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए इन्हें धर दबोचा। 
पुलिस की मानें तो ये गैंग सुनसान इलाको पर अपने शिकार की तलाश में रहता था और लुटपाट की घटनाओं को अंजाम देने के लिए ज्यादातर बिना नम्बर प्लेट वाली स्कूटी का ही इस्तेमाल करता था। इतना ही नहीं ये गिरोह विग पहनकर लुटपाट करता था ताकि कोई इन्हें पहचान ना सके। ये गैंग अकेले कार या बाइक से जाने वाले लोगों को अपना शिकार बनाता था। और जैसे ही इनको ऐसा कोई शख्स मिलता तो ये रास्ते पर आकर खडे हो जाते और रास्ते पूछने के बहाने से उनको रोकते जैसे ही कोई रुकता तो ये गैंग पिस्टल दिखाकर उनको लुट लेते थे। 
आपको बता दें कि इस गैंग की घटनाएं सिर्फ दिल्ली तक ही सीमित नहीं है बल्कि यूपी हरियाणा और राजस्थान तक भी इस गैंग के कारनामों के चर्चे है। पर चोर चाहे कितना भी शातिर क्यों ना हो एक ना एक दिन पुलिस के हत्थे चढता ही है और ये गैंग भी अब पुलिस के हत्थे चढ चुका है और पुलिस पता लगा रही है कि इस गिरोह के तार अभी और कितने लोगों से जुडे है।
Share This Post