Breaking News:

पांच साल की बच्ची को भी नहीं छोड़ा हवस की आग में जल रहे फजरूद्दीन ने.. मासूमो की जिंदगी से ऐसा अपराध क्यों

आए दिन बच्चियों और महिलाओं पर होने वाले अपराधों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. इसमें सबसे ज्यादा मामले दुष्कर्म के है.समाज के कुछ मनचले ही दुष्कर्म जैसे जघन्य अपराधों को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहे है. ऐसे लोगों को समाज द्वारा ही सजा देनी चाहिए, क्योंकि कानून से बचने के सारे उपायों को ये जानते हैं और कानून का उनको कोई डर भी नहीं होता है. सिर्फ दुष्कर्म ही नहीं, बल्कि लिंगानुपात का घटना भी महिलाओं के लिए किसी अपराध से कम नहीं है.मामला उत्तर प्रदेश के हापुड़ शहर का है जहाँ एक बच्ची का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म किया गया. यहां एक पांच साल की बच्ची को एक युवक ने अगवा कर उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया.

जानकारी के अनुसार शहर के थाना हापुड़ देहात इलाके के एक मोहल्ले की करीब पांच साल की एक बच्ची को अगवा कर उसके साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपी को पुलिस ने घटना के सात घंटे के अंतराल में गिरफ्तार किया. पुलिस क्षेत्राधिकारी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि बच्ची से दरिंदगी करने वाले आरोपी फजरूद्दीन को रात्रि में पुलिस ने रेलवे लाइन के पास से गिरफ्तार किया. फजरूद्दीन ने अपना जुर्म कबूल किया और कहा की वह नशे का आदी है जिस दौरान उसने ऐसी दरिंदगी को अंजाम दिया.

सूचना पर पहुंची पुलिस ने भी अस्पताल स्टॉफ से इलाज शुरू करने के लिए कहा तो वहां मौजूद डॉक्टर व स्टॉफ ने पुलिस क्षेत्राधिकारी से भी अभद्रता व मारपीट कर दी.इस दौरान अस्पताल स्टॉफ फरार हो गया.इसके बाद बच्ची को प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया.वहीं पुलिस क्षेत्राधिकारी ने अपनी मरहम पट्टी कराई.इधर, पुलिस ने बताया कि फिलहाल अस्पताल स्टॉफ के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है.महिलाओं पर होने वाले दुष्कर्म जैसे अपराध को रोकने के लिए अपनी और समाज की सोच को बदलना होगा और इस तरह के जुर्म को रोकने के लिए आरोपियों के खिलाफ अपनी आवाज को बुलंद करना होगा और राष्ट्रहित में महत्वपूर्ण कदम उठाना होगा.

Share This Post