कथित दलित नेता के साथ- 2 धारा 377 के विरोधी भी हैं जिग्नेश मेवानी.. आज मना रहे हैं जश्न


यदि आप जिग्नेश मेवानी को मात्र एक कथित रूप से दलित राजनीति करने वाले नेता मानते हैं जो आप को एक बार फिर से विचार करना पड़ेगा . अपने विवादित बयानों के साथ साथ दिल्ली की कथित टुकड़े टुकड़े गैंग के साथी होने के भी इन पर आये दिन आरोप लगते हैं.. लेकिन इसके अलावा इनका एक पक्ष और एक पहलू और अभी है और वो पहलू है समलिंगियो के समर्थन में उतरना और प्रकृति विरुद्ध विवाह आदि पर अदालत में जीत पर जश्न मनाना भी .

विदित हो कि आज सुप्रीम कोर्ट में समलिंगियो की जीत के 1 साल पूरे होने पर ट्विटर पर 377 ट्रेंड कर रहा है.. इसमें तमाम वो लोग जश्न मना रहे हैं जो सुप्रीम कोर्ट में आज के दिन को एतिहासिक इसलिए मानते हैं क्योकि उनको अपने समलिंगी साथी के साथ विवाह आदि करने में कानूनी और सामाजिक समस्या हुआ करती थी . भले ही इस निर्णय को अभी भी गाँव आदि में मन से स्वीकार नहीं किया जा रहा हो लेकिन कानूनी जीत का बाकायदा जश्न मनाया जा रहा है .

इसी जश्न में शामिल हैं गुजरात के नेता और हार्दिक पटेल के साथ उमर खालिद और कनहैया जैसो के साथी माने जाने वाले जिग्नेश मेवानी भी . ट्विटर के टॉप ट्रेंडिंग में उनका भी ट्विट सामने आ रहा है जिसमे उन्होंने आज के दिन का जश्न मनाते हुए बाकी जश्न मनाने वालों को बधाई दी है और अपनी तरफ से एक नया ट्रेंड दिया है कि इश्क मोहब्बत जिंदाबाद.. निश्चित तौर पर कई लोग उनके इस रूप को नहीं जानते रहे होंगे जिसको आज उन्होंने बाकायदा ट्विट कर के प्रकट कर दिया है .

देखिये वो ट्विट –


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...