चर्चा थी कि अखिलेश की सपा में वापसी करेंगे शिवपाल यादव.. जिस पर अब आया शिवपाल का बयान

23 मई को जब लोकसभा चुनाव 2019 के चुनाव परिणाम आये तो विपक्षी चौंक गये. विपक्ष के लिए एक तरह से अवसाद की स्थिति बन गई. पीएम मोदी तथा बीजेपी को रोकने के विपक्ष तमाम प्रयासों को जनता ने खारिज कर दिया तथा मोदी जी को बंपर बहुमत के साथ दोबारा देश की सत्ता सौंप दी. इन चुनाव परिणामों से सबसे बड़ा झटका अखिलेश यादव को लगा, जिन्होंने मायावती के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था लेकिन सपा सिर्फ 5 सीट ही जीत पाई. सबसे बड़ी बात यादव परिवार के तीन सदस्य डिंपल यादव, धर्मेन्द्र यादव तथा अक्षय यादव अपनी अपनी सीट से चुनाव हार गये.

जम्मू-कश्मीर में जारी है इस्लामिक आतंकियों का खात्मा.. आज फिर हिन्द की सेना ने जहन्नुम पहुंचाए दो इस्लामिक आतंकी

इसके बाद हरा जगह ये चर्चा फिजा में तैरने लगी कि सपा से अलग होकर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बनाकर चुनाव लड़ने वाले अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव की सपा में वापसी हो सकती है. ख़बरें आईं कि मुलायम सिंह यादव चाहते हैं कि शिवपाल की सपा में वापसी हो तथा अखिलेश भी इसके लिए तैयार दिखे. लेकिन अब सपा में वापसी को लेकर शिवपाल यादव यादव ने बड़ा बयान दिया है.

ममता राज में जारी है बीजेपी कार्यकर्ताओं का कत्लेआम.. अब बीजेपी महिला कार्यकर्ता की गोली मारकर ह्त्या

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के मुखिया शिवपाल यादवने समाजवादी पार्टी में विलय की सभी अटकलों को ख़ारिज कर दिया. शुक्रवार को लखनऊ स्थित पार्टी ऑफिस में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए शिवपाल ने कहा कि अब विलय की बात पर विराम लग जाना चाहिए. शिवपाल यादव ने कहा कि लोकसभा चुनाव में हुई हार की पार्टी में समीक्षा हुई है. पार्टी ने 2022 के विधानसभा चुनाव को लड़ने का फैसला किया है. पार्टी संगठन को और मजबूत करेगी.

न्यूजीलैंड की मस्जिद में जिस ब्रेंटन टैरेंट ने मारे थे 51 मुस्लिम, उसने कोर्ट में दिया ऐसा बयान कि चौंक गई दुनिया

लोकसभा चुनावों में प्रसपा की करारी हर पर शिवपाल यादव ने कहा कि लोकसभा चुनाव में हमें समय कम मिला, लेकिन हम आगामी विधानसभा चुनाव मजबूती से लड़ेंगे. उन्होंने कहा कि 2022 में पार्टी उत्तर प्रदेश में सरकार बनाएगी. शिवपाल ने कहा कि हमारी पार्टी सिर्फ 3 महीने पुरानी थी. हमें 1 महीना पहले चुनाव चिन्ह मिला. बावजूद इसके हमने 11 प्रदेशों में चुनाव लड़ा. हमारे पास अच्छा संगठन है. हमें लोकसभा चुनाव हारने का कोई गम नहीं है लेकिन मेरी ताकत का पता सबको चल गया तथा 2022 में यूपी में उनकी पार्टी सरकार बनायेगी.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

Share This Post