अपने पुराने अंदाज में शिवसेना.. सावरकर के अपमान पर राहुल गांधी को दिखाई आँखें


स्वतंत्रता संग्राम के अमर सिपाही, राष्ट्रनायक वीर सावरकर को लेकर कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी के बेहद ही आपत्तिजनक बयान के बाद सियासत गरमाई हुई है. एकतरफ देश की राष्ट्रवादी जनता तथा भारतीय जनता पार्टी राहुल गांधी पर हमलावर है तो वहीं हाल ही में कांग्रेस के साथ मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाने वाली शिवसेना भी सावरकर को लेकर अपने पुराने अंदाज में नजर आई है. शिवसेना ने वीर सावरकर को लेकर राहुल गांधी के बयान पर करारा हमला बोला है.

शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा. वीर सावरकर को लेकर राहुल गांधी ने जो कुछ भी कहा, वो बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. मैं महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं से अपील करता हूं कि वो दिल्ली जाकर राहुल गांधी को वीर सावरकर की किताबें गिफ्ट करें ताकि वो सावरकर को समझ सकें और उनकी गलतफहमी दूर हो सके. महाराष्ट्र कांग्रेस नेताओं को राहुल गांधी को यह भी बताना चाहिए कि वीर सावरकर ने अंग्रेजों के खिलाफ किस तरह संघर्ष किया था और लड़ाई लड़ी थी. संजय राउत ही नहीं बल्कि उद्धव ठाकरे ने भी राहुल गांधी के बयान पर आपत्ति जताई है तथा कांग्रेस हाईकमान से इस पर नाखुशी जाहिर की है.

संजय राउत ने कहा कि अगर आप आज भी वीर सावरकर का नाम लेते हैं, तो देश के युवा बेहद उत्साहित हो जाते हैं और ऊर्जा से भर जाते हैं. वीर सावरकर आज भी देश के हीरो हैं और हमेशा रहेंगे. वीर सावरकर हमारे देश का गौरव हैं. कांग्रेस को वीर सावरकर के बलिदान का सम्मान करना चाहिए. कांग्रेस या कोई और सावरकर का अपमान नहीं कर सकता है. वीर सावरकर आज भी हमारे लिए प्रेरणा के स्रोत हैं. उनकी यह प्रेरणा संघर्ष करने में हमारी मदद करती है. वीर सावरकर को लेकर राहुल गांधी का बयान बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है.

संजय राउत ने कहा है कि वीर सावरकर सिर्फ महाराष्ट्र के ही नहीं, देश के देवता हैं, सावरकर नाम में राष्ट्र अभिमान और स्वाभिमान है. सभी को इस देवता का सम्मान करना चाहिए. संजय राउत ने कहा है कि आप आज भी यदि सावरकर का नाम लेते हैं तो देश के युवा उत्तेजित और उद्वेलित हो जाते हैं, आज भी सावरकार देश के नायक हैं और आगे रहेंगे, वह हमारे देश का गर्व हैं. संजय राउत ने कहा है कि राहुल गांधी को चाहिए कि वह सावरकर की किताबें पढ़ें ताकि उनकी गलतफहमी दूर हो सके.

बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली के रामलीला मैदान में राहुल गांधी ने शनिवार को ‘रेप इन इंडिया’ वाले बयान पर माफी मांगने से इनकार करते हुए जोरदार अंदाज में विरोध दर्ज किया. उन्होंने कहा, ‘ये लोग कहते हैं माफी मांगो. मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं है, राहुल गांधी है. मैं सच बात बोलने के लिए कभी माफी नहीं मांगूंगा. मर जाऊंगा, लेकिन माफी नहीं मांगूंगा.’


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share