Breaking News:

कर्नल पुरोहित ने 2006 में ही बता दिया था PFI को देश का कैंसर ? उसके बाद उन्हें मिली ऐसी सजा जो मौत से भी दर्दनाक थी और उन्हें ही घोषित कर दिया गया “आतंकी”

सुदर्शन ने जाकिर को सबसे पहले आतंकी बताया था . उस समय नहीं पर बाद में सबने स्वीकार किया था की जी हाँ , जाकिर दुर्दांत आतंकी था और आतंकी ही नही वो आतंकी फैक्ट्री भी था हर दिन नए नए आतंकी खुलेआम मंच के भाषणों से निकालता था और अफ़सोस की बात ये भी रही की उसके ही मंच पर ओसामा को जी कहने वाले तमाम वो नेता थे जो एक समय भारत भाग्य विधाता माने जाते थे . और उन्होंने आतंकी को आतंकी कहने के बजाय एक जांबाज़ सैनिक अफसर को ही आतंकी बना और बता डाला जिसके हिसाब से उसको सजा केवल देशभक्ति की दी गयी थी ..

बलात्कार के आरोपी मोहम्मद रियाज़ को पकड़ने गई पुलिस टीम पर तलवार व लाठी-डंडों से भयानक हमला.. क्या ये मॉब लिंचिंग नहीं?

ऐसे तमाम दावों में एक दावा हमारा PFI पर भी था जिसके मंच पर हामिद अंसारी जैसे उच्चतम पद पर बैठे लोग पहुचे थे . उस PFI को सबसे पहले सुदर्शन न्यूज ने एक दुर्दांत उभरता हुआ जेहादी दल बताया था जिसका उस समय तथाकथित सेकुलर समूह ने विरोध किया था पर आखिरकार वो समय आ ही गया जब सेना के एक राष्ट्रभक्त कर्नल ने उस पर मुहर लगा दी की ना सिर्फ दक्षिण भारत बल्कि सम्पूर्ण भारत की एकता और अखंडता के लिए खतरा बनता जा रहा जेहादी दल दक्षिण में उभर रहा है जिसका नाम है पापुलर फ्रंट ऑफ़ इडिया अर्थात शोर्ट में उसको PFI कहा जाता है .

दहल रही है दुनिया एक साथ इतनी लाशें दफन होती देख कर.. श्रीलंका में बड़ी कार्यवाही की तैयारी, जिसमे हटाया गया पुलिस प्रमुख और सुरक्षा प्रभारी

ज्ञात हो की नए खुलासे से सूत्रों के हवाले से आ रही खबर के अनुसार कर्नल श्रीकांत पुरोहित जी ने सन 2006 में ही बता दिया था की केरल में एक जेहाद की पौध तैयार हो रही है जिसका नाम PFI है और वो सीधे सीधे प्रतिबंधित आतंकी दल सिमी का ही ठीक वैसे ही प्रतिरूप है जैसे कभी हाफ़िज़ सईद ने अपने आतंकी दल लश्कर का नाम बदल कर जमात उल दावा रख लिया था पर गतिविधियाँ ठीक वही रखी थी . कर्नल पुरोहित ने ना सिर्फ PFI नाम के इस जेहादी दल की आपराधिक करतूतों से अपने उच्चाधिकारों को सूचित करवाया था अपितु उन्होंने इस जेहादी दल के वहां की तथाकथित वामपंथी सत्ता से इसके रिश्ते भी उजागर किये थे .

कश्मीर ही नहीं असम की समस्या के जड़ में हैं नेहरु. जानिए वो संधि , जिसके बाद असम बन गया बंगलादेशी आक्रान्ताओं का ठिकाना

माना जा रहा है कि बस यही देशभक्ति बन गयी थी कर्नल पुरोहित के ऊपर हुए अंतहीन अत्याचार की पूरी वजह . सूत्रों और अपुष्ट खबरों के अनुसार केरल में मजबूत दखल रखने वाले कुछ वामपंथियो ने ऊपर तक सम्पर्क किया और बड़ी साजिश रची गयी, उसके बाद रच दी गयी कर्नल पुरोहित को आतंकी बनाने की पूरी पटकथा . आखिर में वो पटकथा दुनिया के आगे लाई भी गयी थी पूरी तरह से साजिश के नकाब में लपेट कर भी . इसमें कर्नल पुरोहित जिन्होंने आतंकियों का भंडाफोड़ किया था उन्हें ही आतंकी बना कर इस कदर बदनाम किया गया की उनकी बात पर कोई यकीन भी ना करे और वो जेहादी दल PFI साफ़ बच जाए

25 अप्रैल- पुलवामा में 4 इस्लामिक आतंकियों को मार कर आज ही अमर हो गये थे भारत माँ के लाल अजय कुमार.. जय हिन्द की सेना

यहाँ सुदर्शन न्यूज इस बात को दावे के साथ कहता है कि देशभक्त कर्नल ही नही बल्कि उनकी सहयोगी मानी जाने वाली साध्वी प्रज्ञा , मेजर उपाध्याय, स्वामी असीमानंद जैसे देशभक्त हिन्दुओ के लिए उस पहले दिन से आज तक आवाज उठाने वाला सिर्फ और सिर्फ सुदर्शन न्यूज था जबकि उस समय इन हिन्दुओं के खिलाफ रचे गये पूरे साजिश के तमाम पात्र वो भी बन गये थे जो आज खुद को हमारे साथ दौड़ में खड़ा कर रहे हैं . इसके गवाह हैं उस समय के वो सभी वीडियो और चलाए गये समाचार जो अभी भी कहीं न कहीं पड़े होंगे जिसमे साध्वी प्रज्ञा को डायन तक बोला गया था .  कर्नल पुरोहित पर हुए इस नए खुलासे के बाद दुनिया हिन्दुओ के खिलाफ रची गयी इतनी गहरी साजिश को जान कर हैरान है खास कर उस सरकार की मिलीभगत से जिसे उन्होंने खुद अपने वोट से चुना था .. अभी इस मामले में और भी खुलासे होने बाक़ी और पूर्ण पुष्टि प्रतीक्षारत है .. जिसके लिए आप जुड़े रहें सुदर्शन न्यूज से …

मोदी से सीधी टक्कर से हटीं प्रियंका गांधी. जानिये अब कौन लडेगा काशी से मोदी के खिलाफ

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post