रो-रो कर बोल रही एक मां… मेरी औलाद को मुस्लिमों ने मार डाला

राजधानी दिल्ली जैसे शहर में बलात्कार, लूट, हत्या, अपरहण जैसे अपराध लगातार जारी है और अपराधी खुलेआम घूम रहे है। हम तो घर बैठे न्यूज़ देखते या पढ़ते वक़्त थोड़ा अफसोस जरूर महसूस करते है। इसके बाद अपने अपने कामो में व्यस्त हो जाते है। क्या हम कभी ऐसा सोच कर देखे है की कभी हमारे साथ ऐसी घटना हो जाये तो क्या होगा? सोच कर ही डर लगता है न? ये भी एक माँ के साथ घटी हुयी घटना है। जो बेटा अपनी माँ के इलाज के लिए मेहनत कर पैसे जोड़ रहा था उस बेटे को उसके कुछ दोस्तों ने मार डाला।
 
राजधानी दिल्ली में एक 14 वर्षीय लड़के की रहस्यमय हत्या का मामला सामने आया है। नाबालिग की मां का आरोप है कि उसके कुछ मुस्लिम दोस्तों ने बंधक बनाककर बेटे की हत्या की है। नाबालिग योगेश कुमार का शव नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर बीते महीने बदहवास अवस्था में पाया गया था। जिसके शरीर पर गंभीर चोटों के निशान थे। शुरुआती जांच में पुलिस हत्या को सवेंदनशील संप्रादायिक विवाद मानकर चल रही है। सूचना के मुताबिक, 23 जून को पोस्टमार्टम के लिए योगेश का शव लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। 
रिपोर्ट के अनुसार, योगेश के शरीर पर कई जगह गंभीर चोट के निशान थे। वहीं, योगेश की मां सीमा का कहना है कि उनके बेटे की हत्या मुस्लिम दोस्तों ने की है। उन्होंने ही योगेश को बंधक बनाया और रुपए की मांग की। सीमा ने दावा किया कि उन्होंने खुद अपने बेटे की आवाज सुनी जिसमें वो बहुत डरा हुआ था। सुदर्शन न्यूज़ से बातचीत में योगेश की मां ने बताया कि 23 जून (2017) को योगेश को उसके दोस्त आरिफ का फोन आया। जिसके बाद वो बाहर चला गया। बाद में बेटे की जान के बदले में मुझसे दस हजार रुपए की फिरौती मांगी गई।
सीमा ने आगे बताया कि आरोपियो ने मुझे धमकी दी, अगर मैंने समय पर पैसे नहीं दिए तो वो योगेश की हत्या कर देंगे। अगली सबुह ही उन्होंने मेरे बेटे की हत्या कर दी और उसका शव रेलवे स्टेशन पर फेंक दिया। शाहदरा के मीत नगर में रहने वाली सीमा ने कहा कि उनका बेटा उनके इलाज के लिए बहुत मेहनत करता था। जबकि सीमा खुद घरेलू काम करती हैं। सीमा ने बताया कि उनके बेटे को बोतल और पत्थर से बुरी तरह मारा गया। वहीं पुलिस ने हत्या के मामले में एफआईआर दर्ज कर मामले में छानबीन शुरू कर दी है। योगेश की माँ ने आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग की है।
Share This Post