भारत के कुछ सेकुलरों ने किया था सुदर्शन का विरोध लेकिन श्रीलंका सरकार ने किया अनुसरण.. बैन हुई आतंकी जाकिर की पीस TV

वो सुदर्शन ही था जिसने सबसे पहले इस्लामिक आतंकी जाकिर नाईक के खिलाफ अभियान शुरू किया तथा उसके पीस टीवी पर बैन लगाने की मांग की थी. सुदर्शन ने बार-बार न सिर्फ अपने दर्शकों बल्कि देश और दुनिया का ध्यान भी आतंकी जाकिर द्वारा पीस टीवी के माध्यम से फैलाए जा रहे आतंक की तरफ आकर्षित कराया. इसके बाद देश के कथित सेक्यूलर बुद्धिजीवियों ने सुदर्शन का विरोध किया लेकिन अंत में सुदर्शन सच साबित हुआ था व भारत में न सिर्फ पीस टीवी बैन हुआ बल्कि आतंकी जाकिर को भी देश छोड़ना पड़ा.

प्रियंका वाड्रा के रोड शो में फंसी एंबुलेंस.. बीमार महिला की तड़प-तड़प कर मौत

भले ही हिंदुस्तान के सेक्यूलरों ने सुदर्शन का विरोध किया था लेकिन अब श्रीलंका ने सुदर्शन का अनुसरण किया है. जी हाँ.. आपको बता दें कि श्रीलंका में इस्लामिक आतंकी जाकिर नाईक के पीस टीवी को बैन कर दिया गया है. श्रीलंका के सबसे बड़े केबल ऑपरेटर डायलॉग (Dialog) और LT ने ज़ाकिर नाईक के पीस टीवी का प्रसारण बंद कर दिया है.

भारत के कुछ सेकुलरों ने किया था सुदर्शन का विरोध लेकिन श्रीलंका सरकार ने किया अनुसरण.. बैन हुई आतंकी जाकिर की पीस TV

कहा जा रहा है कि जिन आतंकवादियों ने श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट को अंजाम दिया वो ज़ाकिर नाईक से प्रभावित था. खबरों के मुताबिक जिन लोगों को अब तक गिरफ्तार किया गया उनमें से कुछ ने बताया है कि वो ज़ाकिर नाईक का ऑडियो और वीडियो क्लिप सुनता था तथा जाकिर नाईक से प्रभावित होकर ही ब्लास्ट को अंजाम दिया है. बता दें कि इससे पहले भारत के साथ ही बांग्लादेश में भी आतंकी जाकिर के पीस टीवी को बैन किया जा चुका है.

श्रीराम की जन्मभूमि पर आत्महत्या कर लेगा एक मुसलमान… अगर फिर से मोदी न आये तो

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW