Breaking News:

गौ हत्यारों के खिलाफ कमलनाथ सरकार की ऐसी कार्यवाही कि गौ रक्षको में फैली ख़ुशी की लहर

मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार ने लिया है एक ऐसा फैसला जो बन गया है न सिर्फ गौ रक्षको में ख़ुशी का सबब बल्कि हिन्दू संगठनों ने भी उनके फैसले की दिल खोल कर सराहना की है . कमलनाथ सरकार के इस अप्रत्याशित फैसले से जहाँ गौ रक्षक खुश हैं तो वहीँ गौ हत्यारों और गौ तस्करों में खलबली मच गयी है . इस फैसले के साथ कमलनाथ ने आने वाले अतिमहत्वपूर्ण लोकसभा चुनावों के लिए अपने इरादे और कार्यशैली जाहिर कर दी है .

ज्ञात हो कि गौ हत्या मामले में मध्य प्रदेश सरकार ने शातिर अभियुक्त नदीम और शकील के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून ( NSA ) के तहत कार्यवाही की है . मध्य प्रदेश में काग्रेंस के सत्ता संभालने के बाद पहली बार तीन लोगों के ख़िलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की गई है. गौ हत्या का ये मामला मध्य प्रदेश के ही खंडवा क्षेत्र का था जिसके गाँव खरखली में गोहत्या हुई थी और पुलिस के पहुचने से पहले ही गौ हत्यारे भाग निकले थे .

यद्दपि भागने का कोई लाभ नही हुआ था और बाद में छापेमारी करते हुए पुलिस ने सभी तीनों अभियुक्तों नदीम, शकील और आज़म को गिरफ्तार कर लिया है. गाय काटने वाले नदीम और शकील दोनों भाई हैं और तीसरा अभियुक्त आज़म खरखली गांव का ही रहने वाला है. पुलिस को घटनास्थल से कटी हुई गाय के अवशेष मिले थे . पुलिस ने बताया, ”नदीम उर्फ़ राजू पर पहले भी गो हत्या का मामला दर्ज हो चुका है. हमने इन लोगों पर मोघट रोड पुलिस स्टेशन में गोहत्या निषेध अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस अधीक्षक की सिफ़ारिश पर इन लोगों पर ज़िला कलेक्टर ने रासुका लगाया है.”

 

Share This Post