Breaking News:

ईवीएम छेड़छाड़ मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और चुनाव आयोग को जारी किया नोटिस

नई दिल्ली : ईवीएम में छेड़छाड़ मामले को लेकर बहुजन समाजवादी पार्टी की ओर से दायर की गई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए केंद्र और चुनाव आयोग को नोटिस जारी किया है। इसके साथ ही कोर्ट ने बसपा की अपील पर दोनों से जवाब मांगा है। बता दें कि इस मामले की अगली सुनवाई अब 8 मई को होगी।

मामले की सुनवाई करेत हुए जस्टिस जे. चेलमेश्वर की अगुवाई वाली पीठ में बसपा की ओर से पक्ष रखते हुए वरिष्ठ अधिवक्ता पी.चिंदबरम ने बेंच से कहा कि चुनावों में मतदाता-सत्यापन पेपर ऑडिट ट्राइल के बिना इस्तेमाल वोटिंग की शुद्धता पर शक पैदा करता है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वोटरों की संतुष्टि के लिए इसका इस्तेमाल जरूरी है।

चुनाव की शुद्धता बनाए रखने के लिए मतदाता सत्यापन पेपर ऑडिट ट्रायल का इस्तेमाल जरूरी है, क्योंकि ईवीएम के हार्डवेयर और सॉफ्टेवर से छेड़छाड़ संभव है। बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव में भाजपा की भारी जीत के बाद सबसे पहले मायावती ने इवीएम पर सवाल उठाया था और भाजपा को फिर से मतदान करने की चुनौती दी थी।

गौरतलब है कि इससे पहले चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों और विशेषज्ञों को खुली चुनौती देते हुए कहा कि आइए एवं ईवीएम हैक कीजिए तथा दिखाइए कि इन मशीनों से छेड़छाड़ की जा सकती है या नहीं। आयोग ने मई के पहले सप्ताह से 10 मई के बीच वैज्ञानिकों, तकनीक के जानकारों और राजनीतिक दलों को ईवीएम को हैक करने की खुली चुनौती दी है। इस दौरान सभी को ईवीएम हैक करने का मौका दिया जाएगा।

Share This Post