Breaking News:

देश में बच्चों से दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं पर चिंता जताया है सुप्रीम कोर्ट ने…

देश भर में बच्चों से दुष्कर्म कि बढती घटनाओं पर चिंता जताते हुए सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर संज्ञान लिया है. एक जनवरी से गत 30 जून तक बच्चो से दुष्कर्म कि कुल 24,212 घटनाएँ हुई, जिनमें एफआईआर दर्ज है. कोर्ट ने अपना मन बना लिया है ऐसे मामलों से निपटने के लिए और अन्य उपाय करने के लिए दिशा निर्देश तय किया है. शुक्रवार को मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए कोर्ट ने वरिष्ठ वकील वी गिरि को न्यायमित्र नियुक्त किया. कोर्ट ने गिरि से जरुरी दिशा निर्देश पारित करने के सुझाव मांगे है.  इस मामले पर सोमवार को सुनवाई होगी.

सेक्यूलर लड़की कर बैठी परवेज से प्यार.. फिर निकाह के बाद जब वो गर्भवती हुई तो बदल गये हालात

इस ममाले पर न्यायाधीश रंजन गोगोई, दीपक गुप्ता व अनिरुद्ध बोस कि तीन सदस्यीय इस मामले को संज्ञान लेते हुए कहा है कि विभिन्न ऑनलाइन प्रकाशन और अख़बारों में बच्चों से दुष्कर्म कि आई हुई घटनाओं ने उन्हें परेशान और चिंतित कर दिया है.  कोर्ट ने सभी राज्यों और उच्च न्यायालों से बच्चों से दुष्कर्म के मामलों के आकडे मंगाएं है. कोर्ट ने एकत्रित आकड़ों की जानकारी दि जो कि वाकई में चौकाने वाली है.

दरिंदगी से मार डाली गई वो मुस्लिम लड़की जो प्यार कर बैठी हिन्दू युवक से.. खामोश हैं प्यार के ठेकेदार

सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री ने सभी राज्यों से आये आकड़ों को एकत्रित किया है जिससे यह पता चला है कि देश भर में 1 जनवरी से 30 जून के बिच बच्चों से दुष्कर्म कि कुल 24,212 एफआईआर दर्ज हुए है. इसमें से 11,981 मामलों पर जाँच चल रही  है. जबकि 12,231 मामलों में पुलिस आरोपपत्र दाखिल कर चुकी है लेकिन इनमे से ट्रायल  सिर्फ 6449 केस का ही चल रहा है. 4871 मामलों में अभी ट्रायल शुरू नहीं हुआ है. ट्रायल कोर्ट ने अभीतक 991 मामलों में फैसला सुनाया है जो कि कुल संख्या का मात्र 4 फिसद है.

जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांग के लिए सुरेश चव्हाणके जी के संघर्ष को बड़ी सफलता.. राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा ने पेश किया प्राइवेट “जनसंख्या नियंत्रण कानून” बिल

सूत्रों के मुताबीक यह पता चला है कि हाल में ही राजग सरकार की कैबीनेट ने पोक्सो एक्ट में संशोधन को मंजूरी देते हुए बच्चों से दुष्कर्म पर फांसी की सजा का प्रावधान किया है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

Share This Post