Breaking News:

अयोध्या की पवित्र भूमि पर मस्जिद बनी तो करूंगा आत्मदाह – स्वामी वेदांती .. लामबंद हुए हिन्दू संत

वो श्रीराम मन्दिर की तरफ से मुख्य पक्षकार हैं और बाबरी काण्ड से ले कर अब तक भगवान श्रीराम के मन्दिर की मुहिम के मुख्य सारथी भी रहे हैं . डाक्टर राम विलास दास वेदांती जी हैं वो जिनका नाम मन्दिर आन्दोलन से हमेशा से जुड़ा रहा है . अब जब सुप्रीम कोर्ट ने सुप्रीम आदेश देते हुए श्रीराम के मन्दिर का फैसला मध्यस्थता से देने का निर्णय दे दिया है तब उस पर आने लगे हैं तमाम प्रकार से बयान और आरोपों के बीच आया अब तक का सबसे सनसनीखेज एलान .

ज्ञात हो कि श्रीराम मन्दिर के मुख्य पक्षकार स्वामी वेदांती ने एलान किया है कि यदि श्रीरामजन्मभूमि ही नहीं बल्कि पवित्र अयोध्या की सांस्कृतिक सीमा के अन्दर भी कोई भी मस्जिद बनती है तो वो आत्मदाह करेंगे.. सुप्रीम कोर्ट में बनी मध्य्स्थता टीम पर नाराजगी जाहिर करते हुए वेदांती ने कहा कि इस टीम में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ अदि को क्यों नही शामिल किया गया और इस टीम से सही फैसले पर आने की संभावना न के बराबर है .

ज्ञात हो कि सुदर्शन न्यूज से हुई एक्सक्लूसिव बातचीत में डाक्टर वेदांती जी ने आगे कहा कि दिल्ली में बाबरपुर जैसे इलाके हैं जहाँ पर बाबरी के प्रेमी चाहें तो बाबरी मस्जिद बनवा सकते हैं लेकिन अयोध्या के क्षेत्र में किसी भी प्रकार की मस्जिद बनवाना या उसकी कल्पना करना भी सम्भव नहीं है . उन्होंने कहा कि अयोध्या में कोई भी ताकत भगवान श्रीराम का भव्य मन्दिर बनने से नहीं रोक पाएगी और जल्द ही श्रीराम का मन्दिर अयोध्या में हिन्दू समाज के संकल्पों से बनेगा ..

Share This Post