CRPF के काफिले पर इस्लामिक आतंकी दल जैश-ए-मोहम्मद का हमला… 42 जवान हुए बलिदान


जम्मू कश्मीर के पुलवामा ने अवंतीपुरा से बेहद की दर्दनाक खबर सामने आ रही है जहाँ इस्लामिक आतंकी दल जैश-ए-मोहम्मद के हमले में CRPF के 42 जवान बलिदान हो गये हैं लेकिन अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है. खबर के मुताबिक, आतंकियों ने इलाके में जवानों पर पहले गोलीबारी की और फिर उनपर कार के जरिये आईईडी ब्‍लास्‍ट किया. ब्‍लास्‍ट के बाद भी जवानों पर फायरिंग की गई. जैश के इस हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) के 42 जवान शहीद हुए हैं तथा 30 से ज्यादा जवान घायल बताए जा रहे हैं.

बताया जा रहा है कि काफिले में सीआपीएफ की करीब दर्जनभर गाड़ियों में 2500 से अधिक जवान सवार थे. आतंकियों ने सुरक्षाबलों की एक गाड़ी को निशाना बनाया है. उरी के बाद यह बड़ा आतंकी हमला है. घाटी में काफी लंबे समय के बाद आतंकियों ने आईईडी धमाके के जरिए सुरक्षाबलों पर बड़े हमले को अंजाम दिया है. सीआरपीएफ के सूत्रों का कहना है कि सड़क पर एक चार पहिया वाहन में IED लगाया गया था. कार हाईवे पर खड़ी थी. जैसे ही सुरक्षाबलों का काफिला कार के पास से गुजरा, उसमें ब्लास्ट हो गया. इस दौरान काफिले पर फायरिंग भी की गई. इस हमले में CRPF के 42 जवान बलिदान हो गये तथा 30 के करीब घायल हो गये. संभावना है कि यह एक रिमोट कंट्रोल्ड व्हीकल आईईडी था.

सीआरपीएफ के डीजी आरआर भटनागर ने कहा कि जम्मू से श्रीनगर काफिला जा रहा था. काफिले में करीब 2500 लोग थे. वहीं सीआरपीएफ के जिस काफिले पर हमला हुआ है, उसमें 25 जवान मौजूद थे. उन्होंने बताया कि आतंकी हमले के बाद सेना ने इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है.

Share This Post