प्रयागराज कुंभ में संतो व श्रद्धालुओं का नरसंहार करने की थी तैयारी..सामने आ रहा एक मदरसे का नाम

आतंक की जिस पराकाष्ठा से लगातार सतर्क कर रहा था सुदर्शन न्यूज आखिरकार वो सब सतह पर आता दिख रहा है..अब सीधे सीधे वो साधु संत निशाने पर आ चुके थे जो शहर और सांसारिक दुनिया से काफी दूर गंगा माँ के तट पर भगवान का भजन कर रहे हैं.. उनके साथ साथ वो श्रद्धालु भी निशाने पर थे जो धर्मनिरपेक्ष छवि के साथ उन सन्तो के सानिध्य में भगवान का भजन करने और कल्पवास आदि करने के लिए पावन तट प्रयागराज में जमा हुए थे..यदि आतंकी अपने मंसूबो में सफल हो जाते तो यकीनन ये सदी का सबसे बड़ा नरसंहार होता जिसके निशाने पर सिर्फ हिन्दू होते..

इस पूरे मामले में भी एक मदरसे का नाम सामने आ रहा है..साथ ही इसके तार उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले के मुस्लिम बहुल इलाके मेवाती मुहल्ले से भी जुड़ते दिख रहे हैं..मेवाती मुहल्ला गोंडा शहर के एकदम मध्य में है जिस पूरे इलाके में हिन्दुओ की आबादी लगभग न के बराबर है..एनआईए और ATS  चल रहे कुंभ मेले में केमिकल हमले की आतंकी साजिश को नाकाम करते हुए उत्तर प्रदेश के गोंडा समेत देशभर से 9 संदिग्धों को हिरासत में लिया है. लश्कर और जमात-उद-दावा से जुड़े लाहौर के फलाह-ए-इंसािनयत फांउडेशन (एफआईएफ) के द्वारा टेरर फंडिंग के मामले में एनआईए व एटीएस की टीमों ने बुधवार को गोंडा समेत देशभर के कई ठिकानों पर छापेमारी की.

केमिकल अटैक में महारत अब तक इराक सीरिया में सक्रिय आतंकी समूहों को ही है जिसमें ISIS सबसे आगे है..इसके अलावा पाकिस्तान के पास भी केमिकल हमले की टेक्नोलॉजी होना बताया जाता है…इस पूरे मामले में उत्तर प्रदेश के गोंडा में एक मदरसा शिक्षक को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई. उसके पास से कई दस्तावेज मिले हैं जिनकी पड़ताल की जा रही है. गोंडा के मेवाती मोहल्ला में सुबह करीब छह बजे मदरसा शिक्षक के यहां पहुंची टीम ने कई घंटो तक उसके घर को खंगाला.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share