Breaking News:

जल रहा था शहर, जूझ रही थी पुलिस.. इन सब में अड़ंगा डाल रही थी आप विधायक अलका लांबा

नई दिल्ली : कुछ राजनीतिज्ञ कही भी राजनीति करने से चूकते नहीं। कैसे ना कैसे राजनीति करने का रास्ता बना ही लेते है। खबर पुरानी दिल्ली के चांदनी चौक इलाके की है, जहां सोमवार रात करीब 10 बजे एक साड़ी की दूकान में आग लग गई थी। देर से पता चलने के कारण आग फ़ैल गई और 80 दुकानों को अपनी चपेट में ले लिया।

जिसके बाद दमकल की गाड़ियों को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया। मौके पर पहुंची 29 दमकल ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग बुझाने में साढ़े चार घंटे से ज्यादा समय लग गया। गनीमत यह रही की इस घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। आग लगने का कारण अभी पता नहीं चल पाया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

पुलिस और दमकलकर्मियों ने आग बुझाना शुरू ही किया था कि स्थानीय विधायक अलका लांबा मौके पर पहुंच गईं। इसके बाद वहां हाई वोल्टेज पॉलिटिकल ड्रामा देखने को मिला। वह आग पर काबू पाने के लिए आई स्पेशल क्रेन पर चढ़ गईं और इसकी वजह से वहां काफी देर तक काम रुका रहा और आग बढ़ती रही। व्यापारी भी धीरे-धीरे परेशान होने लगे और नीचे से नारेबाजी होने लगी।

बात यही पर खत्म नही होती उन्हें नीचे उतारने के लिए बकायदा स्पेशल फायर ब्रिगेड की गाड़ी लगाई गई। वह क्रेन से तो नीचे उतरीं लेकिन आग बुझाने गए दमकल पर चढ़ी रहीं। वहां तैनात पुलिस बल अलका लांबा के साथ-साथ ही चलता रहा। वहीं, कहा जा रहा है कि सीसगंज गुरुद्वारे से उन्हें पुलिस जिप्सी में बैठा कर आगे भेजने का प्लान था। लेकिन वह वहां भी नहीं उतरीं। ऐसे में पानी से भरी फायर ब्रिगेड को पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन की ओर दौड़ा दिया गया। इसके बाद ही अलका लांबा वहां से निकली।

Share This Post