राज्यसभा में EVM के मुद्दे पर एकजुट हुए विपक्ष को नकवी ने दिया ये करारा जवाब

नई दिल्ली : राज्यसभा में EVM के मुद्दे पर बुधवार को जमकर हंगामा हुआ। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भिंड में ईवीएम में छेड़छाड़ का मामला सदन में उठाया। वहीं, बसपा प्रमुख मायावती ने भी ईवीएम का मुद्दा उठाकर विपक्ष को समर्थन दिया। मायावती ने कहा कि भिंड में ईवीएम से छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। इसकी जांच होनी चाहिए। मायावती ने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट में शिकायत करेंगे।

इसके जवाब में केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि मायावती हार के बाद जनता का अपमान ना करे। मायावती ने मध्य प्रदेश के भिंड में ईवीएम मशीन के मुद्दे को उठाया जिसके बाद कांग्रेस ने भी इसका समर्थन कर दिया। विपक्ष को जवाब देते हुए नकवी ने कहा कि जब आप बिहार और दिल्ली जीते तब ईवीएम अच्छी थी और अब बुरी हो गई‌। उन्होंने कहा कि विपक्ष को अपनी हार स्वीकार करनी चाहिए। विपक्ष ऐसा नीहं करके जनादेश का अपमान कर रही है। नकवी ने कहा कि पंजाब में भी ईवीएम से ही चुनाव हुए हैं।

विपक्ष को जनता का सम्मान करना चाहिए। ईवीएम के मुद्दे पर विपक्षी दल के नेता स्पीकर के आसन के पास आ गए और नारेबाजी करने लगे। उन्होंने ‘ईवीएम की सरकार नहीं चलेगी, नहीं चलेगी’ के नारे लगाने शुरू कर दिए। वहीं, सपा नेता रामगोपाल यादव ने भी ईवीएम मुद्दे की जांच कराने की मांग की। कांग्रेस के गुलाब नबी आजाद ने भी मायावती की मांग का समर्थन किया है। गुलाम नबी आजाद ने कहा कि हिमाचल प्रदेश और चुनावों में ईवीएम की जगह मतपत्र का इस्तेमाल होना चाहिए।

Share This Post