Breaking News:

पाकिस्‍तान की सीमा पर हद से ज्यादा तनाव.. युद्ध जैसी तैयारियां

पाकिस्‍तान अपनी नापाक हरकतों से बाज आने का नाम ही नहीं ले रहा है. इस समय भी भारत और पाकिस्‍तान की अंतरराष्‍ट्रीय सीमा पर युद्ध के हालात बने हुए हैं. पिछले 7 दिनों से अंतरराष्‍ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान की तरफ से फायरिंग की जा रही है और पाकिस्तान इसमें रिहायशी इलाकों को अपना निशाना बना रहा है. जिसके कारण परेशान होकर 35 हजार लोगों ने पलायन कर चुके है .

कठुआ से लेकर अखनूर तक लगभग 60 से ज्‍यादा बीएसएफ की पोस्‍टों को निशाना बनाया जा रहा है. ऐसे में सवाल ये उठता है कि आखिर इन्ही दिनों में इतनी फायरिंग क्यों की जा रही है? तो इसका उत्तर एक दम साफ है कि पाकिस्तान किसी भी तरीके से भारत में ज्‍यादा से ज्‍यादा आतंकियों की घुसपैठ कराना चाहता है. गौरतलब है कि कश्‍मीर में सेना की ओर से चलाए जा रहे ऑपरेशन ऑल आउट के तहत काफी संख्‍या में उनके कमांडर्स और उनके कैडर मारे गए हैं. और कई लोग अंडरग्राउंड भी हो चुके हैं. जिसके कारण वहां पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है.

यही वजह है कि पाकिस्‍तान चाहता है कि आतंकियों की घुसपैठ कराकर कैडर को कश्‍मीर घाटी भेजा जाए और वहां पर हमले कराए जाएं.

सूत्रों के मुताबिक खबर है कि पाकिस्‍तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई बड़ी संख्‍या में आतंकियों को लेकर अंतरराष्‍ट्रीय सीमा और एलओसी पर पहुंच चुकी है और वो चाहती है कि फायरिंग से भारतीय सेना का ध्यान बट जाए और आतंकी जम्‍मू कश्‍मीर की सीमा के भीतर दाखिल हों जाए.

विदित हो कि जवाबी कार्रवाई में भारतीय सेना ने क्रॉस बॉर्डर रेड भी की. जिसमें पाकिस्‍तानी रैंजर्स के मरने वालों की संख्‍या एक दर्जन से ज्‍यादा हो चुकी है. बहुत सी पोस्‍ट उनकी तबाह हुई हैं, कई घर उनके भी टूटे हैं, यही वजह है कि पाकिस्‍तान बौखलाहट के चलते लगातार इस इलाके में फायरिंग कर रहा है.गौरतलब है कि कठुआ तक जो अंतरराष्‍ट्रीय सीमा है, वहां पर लगभग 20 ऐसे नाले और नदियां हैं, जहां से घुसपैठ की आशंका ज्यादा बनी रहती है. यही हालत अखनूर से लेकर पुंछ तक भी है वहां पर भी ऐसे नाले-नदियां, जंगल, पहाडि़यां और झरने हैं जहां से घुसपैठ हो सकती है.

Share This Post

Leave a Reply