तीन तलाक ने सताया, तो हिंदुत्व अपनाया. शमीम जहां चली सत सनातन की ओर….


देहरादून : तीन तलाक का एक और नया मामला सामने आया है, जहां एक मुस्लिम महिला ने इंसाफ ना मिलने पर हिंदू धर्म अपनाने की धमकी दी है। मामला उत्तराखंड के उधम सिंह नगर का है। पीड़ित महिला का कहना है कि अगर उसे न्याय नहीं मिला तो वह हिंदू बन जाएगी या खुदकुशी कर लेगी।

बता दें कि महिला का नाम शमीम जहां है। 12 साल पहले शमीम जहां और आसिफ़ की शादी हुई थी, लेकिन शादी के महज चार साल बाद ही शमीम को उसके शौहर ने तलाक़ दे दिया। हालांकि, घरवालों के समझाने और हलाला का 40 दिनों का समय पूरा होने के बाद दोनों फिर से एक हो गए। इसके बाद आसिफ महिला को मारने-पीटने लगा।

घरेलू हिंसा के खिलाफ आवाज उठाते हुए जहां गदरपुर पुलिस थाने पहुंच गई। इसके बाद आसिफ पुलिस थाने आया और उसने पुलिसवालों के सामने ही जहां को तलाक दे दिया। वहीं, बुधवार को शमीम जहां ने एक विडियो जारी करते हुए पीएम और सुप्रीम कोर्ट से इस मामले में दखल देने की मांग की है।

इसके साथ ही कहा है कि में अपने इस अनुभव के बाद मैं यहीं कहूंगी कि हिंदू बन जाना ही बेहतर है, क्योंकि वहां ऐसी चीजें नहीं होतीं। दूसरा विकल्प खुदकुशी है। मैंने बहुत दुख झेला है। गौरतलब है कि तीन तलाक़ के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई पूरी करते हुए अपना फ़ैसला सुरक्षित रख लिया है। केंद्र सरकार ने तीन तलाक़ के मुद्दे पर कहा है कि अगर ये ख़त्म होता है, तो वह नया क़ानून बनाने को तैयार है।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...