तीन तालाक पर तीन साल जेल…. मोदी सरकार का मुस्लिम महिलाओं को बड़ा तोहफ़ा

तालाक एक ऐसा शब्द जिससे एक औरत की जिदंगी नरक बन जाती हैं। और इससे एक हंसता खेलता परिवार तबाह हो जाता हैं । इसी को ध्यान में रखते हुए तीन तालाक पर पीएम मोदी ने इसी शीतकालीन सत्र में एक नया कानून परित किया हैं। इस कानून के अंदर सख्त सजा का प्रावधान रखा जाएगा। मोदी ने इस विधेयक का मसौदा राज्य सरकारों को उनकी राय के लिए भेजा है।

साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि इस मामले पर केंद्र सरकार अपनी राय जल्द से जल्द भेजे ।

आपको बता दे कि इस नए कानून का नाम द मुस्लिम वीमेन प्रोटेक्शन ऑफ राइट्स इन मैरिज एक्ट’ रखा जाएगा। इस कानून के अनुसार अगर कोई मुस्लिम पति अपनी पत्नी को तालाक देगा तो वह गैर कानूनी होगा। और अगर इसके बावजूद भी कोई लिखित और मौखिक रूप से तालाक देता हैं तो वह अवैध माना जाएगा ।
जो भी इस प्रावधान के तहत तीन तलाक देगा, उसको तीन साल की सजा और जुर्माना देना होगा।

आपको बता दे कि अगर इसके बावजूद भी किसी महिला को तीन तलाक दिया जाता है तो वह महिला खुद अपने और अपने नाबालिंग बच्चों के लिए मजिस्ट्रेट से भरण-पोषण और गुजारा भत्ता की मांग कर सकती है। कितना गुजारा भत्ता देना है, उसका अमाउंट मजिस्ट्रेट तय करेगा। महिला अपने नाबालिग बच्चों की कस्टडी के लिए भी मजिस्ट्रेट से गुहार लगा सकती है। मुस्लिम महिलावो के लिए ये हर्ष का विषय है । मोदी सरकार उनकी दिक्कतों को समझती है और उसका निवारण उनका परम कर्तव्य है ।

Share This Post

Leave a Reply