Breaking News:

आपस में भिड गये देवबंदी और बरेलवी मुसलमान.. पीट का अधमरा किया एक को.. गाँव में तैनात हुआ भारी पुलिस बल


मुसलमानों के अन्दर अलग अलग विचारधारा की बरेलवी और देवबंदी सोच का उस समय आमना सामना हो गया जब एक जमीनी विवाद में दोनों पक्ष इस तरह से आमने सामने आये कि वहां पर भारी पुलिस बल तैनात करना पड़ा और हालात को काबू करने के लिए पुलिस वालों को भी काफी मशक्कत करनी पड़ी .. यद्दपि देवबंद मुसलमानो के मामले में आये दिन अपने फतवों के चलते चर्चा में रहता है और कई बार वो फतवे किसी की व्यक्तिगत जिन्दगी को बहुत प्रभावित करते हैं .

लेकिन इस बार देवबंदी विचारधारा वाले मुसलमानों को बरेलवी विचारधारा के मुसलमानों से कड़ा प्रतिरोध झेलना पड़ा .. ये मामला है उत्तर प्रदेश के जिला अमरोहा का. यहाँ पर कोतवाली डिडौली में जो हुआ उसके बाद आंतरिक टकराव की हद को कई लोगों ने जाना और समझा . ये गाँव गंगदासपुर का मामला है जहा पर देवबंदी मसलक की मस्जिद है। उसके पास ही बरेलवी मसलक का मदरसा है। कई दिन से मदरसे की जमीन को लेकर दोनों पक्षों में विवाद चल रहा है।

बरेलवी विचारधारा के लोगों का आरोप है कि देवबंदी मसलक के लोग मदरसे की जमीन को मस्जिद में शामिल करना चाहते हैं। इस मामले को लेकर रविवार दोपहर गांव में पंचायत बैठी थी। पंचायत में दोनों पक्षों की रजामंदी से मदरसा की जमीन आधी-आधी बांट दी गई। सोमवार को देवबंदी मसलक के लोग जमीन पर निर्माण करा रहे थे। आरोप है कि उन्होंने पंचायत में तय हुई जमीन से अधिक पर निर्माण शुरू करा दिया। बरेलवी मसलक के जकी अहमद ने इसका विरोध किया।

उस समय बताया जा रहा है कि अचानक ही एक पक्ष हिंसक हो गे और अय्यूब, रुकने आलम, आदिल व अशफाक ने मारपीट कर जकी अहमद को बुरी तरह से घायल कर दिया ..जब इसकी खबर जकी अहमद के साथियों को हुई तो उन्होंने भी मोर्चा सम्भाला और देखते ही देखते गाँव जंग का मैदान जैसा बन गया . मारपीट की सूचना मिलने पर दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने आ गए तथा गांव में तनाव बन गया। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची तथा मामला शांत कराया साथ ही घायल जकी अहमद को अस्पताल पहुचाया .. एहतियात के लिए गाँव में पुलिस बल तैनात है .


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...