हाजी याकूब की दादागीरी ध्वस्त करने पर आमादा योगी सरकार.. पूरे परिवार के खिलाफ वारंट जारी

पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी की अब नींद उड़ चुकी है। पुलिस ने पांच साल पुराने मामले की जाँच दोबारा शुरू कर दी है। खुले आम घूम रहे आरोपी हाजी याकूब कुरैशी की अब खेर नहीं है। कानून ने कुरैशी सहित पूरे परिवार को अपने शिकंजे में फंसा लिया है। योगी सरकार में किसी भी आरोपी को बक्शा नहीं जाएगा।

योगी सरकार के आते पुलिस कई पुराने मामलों की नए सिरे से जाँच पड़ताल कर रही है, ताकि खुले आम घुम रहे आरोपियों को जेल की सलाखों के पीछे भेजा जा सके। ऐसा ही एक पांच साल पुराने एक मामले में सीजेएम अदालत ने हाजी याकूब कुरैशी, दो पुत्रों, भाइयों सहित कुल आठ लोगों के गैर जमानती वारंट जारी कर दिए हैं। एसएसपी ने सभी वारंटियों को गिरफ्तार करने के निर्देश एसपी सिटी को दिए हैं।
बता दें कि यह मामला वर्ष 2012 का है जब पदमपुरा निवासी हाजी अनवार की हाजी याकूब सहित आठ आरोपियों ने पिटाई की थी। इतना ही नहीं हमलावरों ने अवैध हथियार से लैस होकर न केवल उनसे मारपीट की, बल्कि जान से मारने की धमकी दी थी। इन आरोपियों से परेशान हाजी अनवार ने हाजी याकूब सहित उसके परिवार के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 149, 504, 506, 384 में लिसाड़ी गेट थाने में एफआईआर कराई थी।
पुलिस मुकदमा दर्ज होने के बाद भी हाजी याकूब को छू तक नहीं पायी थी। लेकिन योगी के राज में पुलिस पहले जैसी नहीं रही है पुलिस और भी ज्यादा सतर्क हो गयी है। अब तक कई सफलताए हासिल कर चुकी है। अब इस मामले पर दुबारा से कार्यवाही की जाए रही है और सीजेएम कोर्ट से हाजी याकूब कुरैशी, उनके पुत्र फिरोज उर्फ भूरा व इमरान, याकूब के भाई हाजी फारुख, याकूब के भतीजे हाजी नदीम व हाजी अलीम, हाजी सलीम और हाजी आबिद के गैर जमानती वारंट जारी कर दिए है।
खंगाले जा रहे पुराने मामले हाजी याकूब का पूरे जिले के थानों से आपराधिक इतिहास एसएसपी ने मांगा है। बता दें कि पहले कुरैशी और उसके परिवार पर शस्त्र लाइसेंस निरस्त, फिर गुंडा एक्ट लग चूका है और अब एनबीडब्ल्यू जारी होने के बाद याकूब परिवार के खिलाफ यह बड़ी कार्रवाई है। इतना ही नहीं यह सभी आरोपी लगातार कोर्ट की तारीखों से भी गैरहाजिर चल रहे थे। अब एसएसपी मंजिल सैनी ने बताया कि हाजी याकूब सहित सभी वारंटियों की गिरफ्तारी के निर्देश एसपी सिटी को दिए गए हैं।
कार्रवाई पांच साल पहले लिसाड़ी गेट थाने में वसूली और मारपीट का दर्ज हुआ था मुकदमा – याकूब कुरैशी, उनके भाई, दोनो बेटों सहित आठ आरोपियों के जारी हुए वारंट- एसएसपी ने एसपी सिटी को दिए सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश। बताया जा रहा है कि हाजी याकूब के परिवार पर शिकंजा कसने के लिए सीधे लखनऊ से निर्देश मिले हैं। सभी मामलों की नए तरीके से जांच की जाएगी और जिन मुकदमो पर कार्यवाही नहीं हुई थी, उनमे कार्रवाई की जाएगी। अब पुलिस काफी सख्ती से काम कर रही है। 
Share This Post

Leave a Reply