जया प्रदा को गाली देने वाले आज़म खान के समधी पर लग चुका है अपनी ही बहू से अप्राकृतिक कुकर्म का आरोप

उत्तर प्रदेश की रामपुर लोकसभा सीट से सपा प्रत्याशी आजम खान.. वो आज़म खान जो अपनी जहरीली तथा महिलाओं को लेकर बेहद ही अश्लील तथा अभद्र बदजुबानी के लिए विख्यात हैं..वो आज़म खान इस समय लोगों के निशाने पर हैं. आज़म खान ने बीजेपी नेता जया प्रदा के खिलाफ इतनी अपमानजनक टिप्पणी की कि उसे सुनकर शर्म भी शर्म से शरमा उठी लेकिन आज़म को ज़रा भी शर्म नहीं आई. पूरा देश आज़म के बयान की निंदा कर रहा है, उनसे माफी मांगने की मांग रहा है लेकिन आज़म तो आज़म ठहरे..वह माफी मांगने को तैयार नहीं है.

नाबालिग बच्ची को उसके घरवालों ने दी थी सेक्यूलरिज्म की शिक्षा.. फिर उसके जीवन में आया शब्बीर

महिलाओं को लेकर आज़म की ये सोच कोई नई नहीं है बल्कि वह इससे पहले भी कई बार बदजुबानी कर चुके हैं. आज़म खान को सुर्खियाँ भी तब मिलती हैं जब वह जहर उगलते हैं तथा भाषाई मर्यादा को तार तार करते हैं. लेकिन एक बार आज़म खान अपनी बदजुबानी के कारण नहीं बल्कि अपने समधी के कारण सुर्खियाँ बटोर चुके हैं. बता दें कि आज़म खान के समधी पर अपनी पुत्रवधू के साथ कुकर्म का आरोप लग चुका है अर्थात आज़म की महिलाओं को लेकर सोच से उनके सगे संबंधी तक संक्रमित हो चुके हैं. तब आज़म के समधी ने अपनी बहू के साथ कुकर्म किया था तो अब आज़म बीजेपी नेत्री जया प्रदा के खिलाग अभद्र टिप्पणियाँ कर रहे हैं.

मिशन विश्व कप 2019 के लिए भारतीय टीम का हुआ एलान.. जानिये किसे मिला मौक़ा और कौन हुआ बाहर?

आपको बता दें कि पिछले साल जून में आजम खान के समधी के खिलाफ उसकी पुत्रवधू ने रामपुर थाने में बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराया है. आजम खान के समधी के बेटे की पत्नी अर्थात उसकी पुत्रवधू का आरोप था कि उसके ससुर ने नशा देकर उसके साथ अप्राकृतिक सेक्स किया है. पीड़िता की शिकायत के आधार पर रामपुर पुलिस ने ससुर, पति और सास के खिलाफ धारा 377, 323, 504, 506, 313 में मुक़दमा दर्ज हुआ था. बता दें कि आजम खान के बड़े पुत्र की ससुराल शहर के ही एक मोहल्ले में है. पीड़िता ने अपने ससुर पर आरोप लगाया था कि उसकी शादी के 6 माह के बाद से ही ससुर रिजवान मोहम्मद खान उस पर गंदी नजर रखने लगे.

मोदी को वोट दे सके वो इसलिए छोड़ दी ऑस्ट्रेलिया की नौकरी… भारत आया, सिर्फ एक वोट के लिए

पीड़िता ने बताया था कि कुकर्मी ससुर मेरे पति अब्दुर रहमान को अक्सर किसी न किसी काम से बाहर भेज देते थे. इसके बाद मुझे घर में अकेला पाकर जबरन मुझे नशीला इंजेक्शन लग देते थे और मेरे साथ अप्राकृतिक संबंध बनाते थे. पीड़िता का आरोप था कि उसके ससुर की इस हैवानियत की वजह से उसके पेट में पल रहा डेढ़ माह के बच्चे की मौत हो गई. वो विरोध करती तो वह उससे मारपीट करता, राजनैतिक ताकत की बात करता, साथ ही अपने बेटे से तलाक दिलाने की धमकी भी देता था.

श्रीरामनवमी के बाद झारखंड में बेकाबू हालात… उन्मादियों की कश्मीरी अंदाज में भयानक पत्थरबाजी से सहमे लोग

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

 

Share This Post