भारत एक सबसे बड़े दंगाई का एक और एलान – “इंशाअल्लाह भारत नहीं बनने देंगे हिन्दू राष्ट्र”


एक बार फिर से एक उकसाने वाली धमकी और एक और जहरीला बयान.. निसंदेह रूप से आज के समय में उसकी पार्टी और उसके परिवार के भाई को भारत का सबसे बड़ा दंगाई कहा जाता है जो कभी हिन्दू देवी देवताओं को अपमानित कर के तालियाँ बटोरता है तो कभी उन्मादी हरकतों से 15 मिनट का समय देता है.. ये वो ओवैसी है जो भारत को इस्लामिक मुल्क बनाने के नापाक सपने ले कर आये आतंकियों की पैरवी करते हुए और उनको कानूनी सहायता पहुचाते दिखाई दे जाता है ..

अब उसी ओवैसी ने एक बार फिर से हिन्दुओ को भडकाते हुए दिया है एक अजीब बयान.. ओवैसी ने असम में राष्ट्रीय नागरिकता रिजिस्टर को लेकर सवाल उठाए थे और आरोप लगाया था कि मुस्लिमों को बाहर करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा रहा है, उन्होंने कहा था कि असम के मंत्री हिमंता बिस्व सरमा कह रहे हैं कि हिंदुओं को बचाया जाएगा। चाहे धारा 370 का विषय रहा हो  या फिर NRC का मुद्दा,   ओवैसी ने हर बार सरकार ही नहीं बल्कि राष्ट्र हित के विरोध में जाते हुए बयान दिए..

ओवैसी ने अलगे ट्वीट में लिखा ”हम ऐसे देश हैं जिन्होंने कई पीड़ित समुदायों (हिंदुओं और गैर-हिंदुओं) का स्वागत किया है, वे संभावित नागरिक नहीं हैं। धर्म कभी भी नागरिकता का आधार नहीं हो सकता। हमारे पूर्वजों ने इसे अस्वीकार कर दिया जब उन्होंने संविधान का मसौदा तैयार किया और गोडसे की औलाद इसे इतनी आसानी से बदल नहीं सकती।”AIMIM के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बयान दिया है कि भारत एक हिंदू राष्ट्र नहीं है और इंशाह अल्लाह कभी होगा भी नहीं,..


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...