कर्नल की काली कमाई का ब्यौरा आया सामने, 1 करोड़ समेत वन्य जीवों की खाल बरामद

मेरठ : यूपी के मेरठ में पूर्व कर्नल देवेंद्र कुमार और उसके बेटे नेशनल शूटर प्रशांत बिश्नोई के घर पर दिल्ली की डीआरआई (डायरेक्ट्रेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस) की टीम ने शनिवार देर रात छापेमारी की। डीआरआई की टीम ने आय से अधिक संपत्ति के मामले में जांच करने के लिए पहुंची थी। जब टीम छापेमारी करने के लिए वहां पहुंची तो सभी दंग रहे गए।

जानकारी के मुताबिक, रिटायर्ड कर्नल के घर में करीब एक करोड़ रुपए नगद और दुर्लभ वन्य जीवों की खाल, खोपड़ी, सींग और वन विभाग से जुड़ी शूटिंग की 40 राइफल और पिस्टल समेत करीब 50 हजार कारतूस बरामद हुए हैं। इसके साथ ही दुर्लभ और प्रतिबंधित वन्य जीवों का करीब 117 किलो मांस बरामद किया है।

टीम ने छापेमारी की कार्रवाई शनिवार सुबह 11:30 बजे शुरु की, जो कि रविवार सुबह 3:30 बजे तक चली। बाद में स्थानीय पुलिस और वन विभाग की टीम को भी मौके पर बुलाया गया। इस नेशनल शूटर को पिछले दिनों बिहार में 500 नीलगाय मारने का ठेका मिला था।

शूटिंग की आड़ में वन्य जीवों की हत्या कर तस्करी करने का खेल भी माना जा रहा है। मेरठ के सिविल लाइन क्षेत्र में महिला थाने के सामने रिटायर्ड कर्नल देवेन्द्र कुमार की कोठी है। खुफिया सूचना के आधार पर टीम से इस कार्रवाई को अंजाम दिया। इसी कोठी संख्या 36/4 में उनका बेटा प्रशांत बिश्नोई रहता है, देवेन्द्र कुमार यहां बहुत कम रहते हैं।

Share This Post