सुषमा स्वराज का फैन हुआ दुर्दान्त आतंकी और अलगाववाद का समर्थन यासीन मलिक… जानिए किस बात पर


जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के प्रमुख मोहम्मद यासीन मलिक ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को कश्मीरी कैदियों को खुला पत्र लिखा है. इस पत्र में मलिक ने पाकिस्तान के जेल में बंद कुलभूषण जाधव को लेकर सुषमा स्वराज द्वारा दिए गए भाषण का जिक्र किया है. बता दें कि यासीन मालिक जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के चीफ भी हैं. कश्मीरी नेता यासीन मलिक ये बयान अचंभित करता है.

उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को खुला पत्र लिखकर पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी कुलभूषण जाधव समेत भारतीय कैदियों का मुद्दा उठाया.

उन्होंने कहा है कि वह पाकिस्तान में जाधव के परिवार के साथ हुए बर्ताव को लेकर 28 दिसंबर को संसद में सुषमा स्वराज के भाषण से ‘भावुक’ हो गए.

उन्होंने कहा, ”आपके शब्दों ने मेरे हृदय को भावुक कर दिया और जेल के जीवन की मुसीबतों का अनुभव होने के नाते मैं जाधव की पत्नी और मां को हुई पीड़ा को समझ सकता हूं.”

पत्र के अंत में मलिक ने लिखा कि मैंने ये पत्र राज नेता के तौर पर नहीं, बल्कि जेल में बिताए दिनों के दुखों के प्रत्यक्षदर्शी के रूप में लिख रहा हूं. इसमें मलिक ने आहवान कि अब हमें वादों और नियमों का पालन करने के लिए, कम से कम कैदियों के मामले में उनके जीवन व उनके परिवारों के जीवन को बेहतर बनाने का काम करने चाहिए.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share