सीएम बनने के बाद पहली बार लोकसभा में बोले योगी आदित्यनाथ, कहा- PM के सपनों का प्रदेश होगा उत्तर प्रदेश

नई दिल्ली : उत्तप्रदेश के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री अदित्यनाथ योगी ने 16वीं लोकसभा में बतौर सांसद अपना आखिरी भाषण दिया। योगी ने लोकसभा स्पीकर और सदन के सभी नेताओं को संबोधित करते हुए सबका आभार व्यक्त किया और साथ ही उत्तर प्रदेश को उत्तमप्रदेश बनाने के लिए कहा।

सीएम योगी ने कहा कि वो यूपी को सुधारने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। प्रदेश के अंदर से भ्रष्टाचार, गरीबी, गुंडाराज, अशिक्षा और गरीबी को खत्म करने के लिए पुरजोर कोशिश करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि पीएम ने गोरखपुर को एम्स दिया है और मैं आदरणीय पीएम मोदी जी के सपने को साकार करने के लिए हसंभव कोशिश करूंगा।

योगी अदित्यनाथ ने अपने सदऩ के नेताओं को यूपी में आमंत्रित किया इस दौरान सीएम योगी ने पूर्व यूपी सीएम अखिलेश यादव और काग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर चुटकी भी ली। उन्होंने कहा कि मैं आदरणीय राहुल जी से एक साल छोटा हूं। खड़गे जी, राहुल से एक साल छोटा हूं, उम्र में अखिलेश से एक साल बड़ा हूं। दोनों की जोड़ी के बीच में मैं जो आ गया, ये आपकी विफलता का बड़ा कारण हो सकता है।

आपको यूपी आने के लिए आमंत्रित करता हूं। आने वाले समय में यूपी दंगा मुक्त, गुंडागर्दी मुक्त प्रदेश बनेगा। मैं सभी सासंदों को यूपी में आने के लिए आमंत्रित करता हूं। योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि विकास का ढांचा कैसा होना चाहिए आज दुनिया भारत से सीखती है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में उत्तर प्रदेश में 300 से ज्यादा दंगे हुए लेकिन हमनें पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक भी दंगा नहीं होने दिया।

केंद्र सरकार की जनधन योजना को आदित्यनाथ योगी ने गरीबों की योजना बताई। इसके अलावा अपने भाषण में उन्होंने पीएम द्वारा नवंबर में की गई नोटबंदी की भी सराहना की। आदित्यनाथ ने यूपी की पूर्व सरकारों पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछली यूपी सरकारों ने केंद्र सरकार के द्वारा दिए गए फंड का पूरी तरह से उपयोग नहीं किया। उत्तर प्रदेश को केंद्र सरकार ने पिछले दो सालों में 2.5 लाख करोड़ रुपए दिए, लेकिन मात्र 78 हजार करोड़ ही रुपए खर्च हो पाए।

Share This Post