योगीराज में पहली बार निगरानी में होंगे मदरसे .. देवबन्द से पकड़े गए खूंखार आतंकी ने खोला है कई राज

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बतौर मुख्यमंत्री यह पहला स्वतंत्रता दिवस हैं। जिसकी तैयारी में वह ज़ोर शोर से लगे हुए हैं। स्वतंत्रता दिवस को और खास बनाने के लिए योगी जी ने एक नया फैसला सुनाया हैं। जिससे मदरसों को एक मौका दिया जायेगा उन लोगों को जवाब देने का जिन्होंने अपनी देश के नफरत से मदरसों का नाम बदनाम किया हैं। योगी सरकार ने राज्‍य के सभी मदरसों को 15 अगस्‍त को तिरंगा फहराने और राष्‍ट्रगान गाने का आदेश दिया है। जिसकी फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी कराकर जिले के अल्पसंख्यक अधिकारी को सौंपने होंगे।

योगी सरकार ने आदेश में स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर मदरसों में हर हाल में तिरंगा फेहराने और राष्ट्रगान गाने के साथ शहीदों को श्रद्धांजलि देने और सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजनों करने को भी कहा हैं। इस संबंध में उत्तर प्रदेश मदरसा परिषद बोर्ड की तरफ से 3 अगस्‍त को हर जिले के अल्पसंख्यक अधिकारी को एक लिखित पत्र के माध्‍यम से आदेश दिया गया है। जिसमे उन्होंने कहा है कि 15 अगस्‍त पर सुबह आठ बजे झंडारोहण एवं राष्ट्रगान होगा और सुबह आठ बजकर 10 मिनट पर अमर शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाएगी और इन सभी कार्यक्रमों की फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी कराकर जिले के अल्पसंख्यक अधिकारी को सौंपने होंगे।
योगी जी के इस फैसले का मुस्लिम संगठन विरोध भी जता रहे हैं। उनका कहना है कि यह उनके देश प्रेम पर शक करना हैं लेकिन योगी सरकार का यह फैसला मदरसों के हित में हैं क्योंकि कुछ देश्द्रोहिओं के कारण मदरसों में दी जा रही शिक्षा पर उंगलिया उठाई गयी है। योगी जी अपने इस फैसले से सभी मदरसों को मौका देना चाहते हैं उन सभी देश्द्रोहिओं को जवाब देने का, यह बात मुस्लिम संगठनो को समझने की ज़रूरत हैं। 
Share This Post

Leave a Reply