संघ एक देशभक्ति का मंदिर है, मंदिर में भूत पिशाच का प्रवेश वर्जित है” – ओवैसी को मंत्री अनिल विज का जवाब

कल 19 अगस्त को देश की राजधानी दिल्ली में दुनिया के सबसे बड़े स्वयंसेवी संगठन आरएसएस का “भविष्य का भारत” नामक तीन दिवसीय कार्यक्रम सम्पन्न हुआ. आरएसएस के इस कार्यक्रम में बॉलीवुड सहित देश विदेश की बड़ी बड़ी हस्तियाँ शामिल हुईं वहीं इसके अलावा जानेमाने नागरिकों, उद्योगजगत के प्रतिनिधियों, मीडिया और अन्य क्षेत्रों के प्रमुख भी शामिल हुए. आरएसएस का ये कार्यक्रम १७ अगस्त को प्रारंभ हुआ था तथा कल 19 अगस्त को कार्यक्रम का समापन हुआ. आरएसएस की इस व्याख्यान श्रृंखला को आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत जी ने संबोधित किया तथा देश दुनिया को बताया कि आरएसएस क्या है.

आपको बता दें कि आरएसएस के इस कार्यक्रम में विपक्ष के नेताओं को भी आमंत्रित किया गया था. हालाँकि मुख्य विपक्षी कांग्रेस पहले ही इनकार कर चुकी थी कि कोई भी कांग्रेस नेता संघ के इस कार्यक्रम में शामिल नहीं होगा. इसके अलावा सांसद असदुद्दीन ओवैसी तथा सपा प्रमुख अखिलेश यदाव ने भी कहा था कि वह संघ के कार्यक्रम में शामिल नहीं होने वाले हैं क्योंकि संघ हिन्दू राष्ट्रवाद की बात करता है. भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर फायरब्रांड नेता तथा हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने संघ के कार्यक्रम में न जाने वाले ओवैसी सहित सभी विपक्षी नेताओं पर करारा हमला करते हुए उनकी युलना भूत पिशाच से करते हुए कहा है कि ऐसे लोगों को मंदिर जाने से डर लगता है. अपने आक्रामक बयानों के लिए जाने जाने वाले मंत्री अनिल विज ने कहा है कि आरएसएस देशभक्ति का मंदिर है और मंदिर में भूत पिशाच कभी नहीं जाते. यही कारण है कि ये लोग संघ के कार्यक्रम में नहीं जा सकते हैं.

Share This Post