Breaking News:

अपनी मनमानी करने में जुटी आम आदमी पार्टी, विज्ञापनों पर नहीं मानी सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन

नई दिल्ली : दिल्ली की आप पार्टी से 97 करोड़ रुपये वसूले जाएंगे। आप पार्टी ने नेता अरविंद केजरीवाल को ये पैसे एक महीने के भीतर लौटाने होंगे। बता दें कि 2015 में दिल्ली सरकार पर आम जनता के पैसे के गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगा था।

आम आदमी पार्टी पर आरोप था कि सरकारी विज्ञापनों के जरिये केजरीवाल खुद को प्रोजेक्ट के लिए किया था। दरअसल, सरकारी विज्ञापनों में कटेंट रेग्यूलेशन के लिए बनी कमेटी ने अपनी जांच में ये पाया कि दिल्ली सरकार की सरकारी विज्ञापनों में छापी गए कंटेट कोर्ट की गाइडलाइन का उल्लंघन करती है, इन विज्ञापनों के जरिये दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का प्रमोशन किया गया था।

कमेटी ने अपनी रिपोर्ट तैयार करके मुख्य सचिव को भेज दी थी और अब एलजी हाउस की तरफ से कहा गया है कि विज्ञापनों पर खर्च की गई राशि संबंधित पार्टी यानी आम आदमी पार्टी से वसूली जाए। वहीं, सूत्रों के मुताबिक दिल्ली सरकार 42 करोड़ रुपये का भुगतान कर चुकी है।

मतलब ये 42 करोड़ रुपये केजरीवाल को लगा बड़ा झटका, एलजी का आदेश है कि आप को देने होंगे 97 करोड़ आम आदमी पार्टी को अपनी ही सरकार को देने होंगे, जबकि 55 करोड़ रुपये पार्टी को सीधे विज्ञापन एजेंसियों को देने होंगे।       

Share This Post