अजीज खान ने प्रभु श्रीराम को गाली दी तो उबल पड़ा असम… अवैध बांग्लादेशियों ने भी बरसाए पत्थर

मजहबी उन्मादी अज़ीज़ खान की एक ओछी हरकत के कारण असम सुलगने से बच गया. आखिर हिन्दू समाज आपने आराध्य प्रभु श्रीराम का अपमान कैसे सहता. अज़ीज़ खान ने हिन्दुओं के आराध्य प्रभु श्रीराम के बारे में सोशल मीडिया पर बेहद ही आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी. जानकारी मिलते ही हिन्दू समाज आक्रोशित हो उठा तथा उन्मादी अज़ीज़ की गिरफ्तारी के लिए प्रदर्शन करने लगा. इसके बाद बंग्लाद्देशी घुसपैठियों को साथ लेकर मजहबी उन्मादी भी सामने आ गये तथा हिन्दुओं पर कश्मीरी अंदाज में भयंकर पत्थरबाजी शुरू कर दी, जिसके बाद क्षेत्र में सांप्रदायिक तनाव उत्पन्न हो गया.

मामला असम के तिनसुकिया जिले का है जहाँ के दुमदुमा थाना अंतर्गत दुमदुमा, लोंगसोवाल एवं बड़ाहापजान में फेसबुक पर की गई एक टिप्पणी के बाद पिछले तीन दिनों से जारी तनाव ने सांप्रदायिक रुप धारण कर लिया. बड़ाहापजान में स्थिति उस वक्त अनियंत्रित हो गई, जब सोशल मीडिया पर की गई अशोभनीय टिप्पणी को लेकर प्रदर्शन कर रहे हिन्दू समाज के लोगों पर उन्मादियों ने पत्थरबाजी कर दी जिसके बाद दंगे जैसे हालात पैदा हो गए. स्थिति को नियंत्रित करने के लिए सुरक्षा बलों ने पहले लाठीचार्ज, फिर आंसू गैस के गोले दागे. इस पर भी जब बवाल कम नहीं हुआ तो पुलिस को हवा में फायरिंग कर भीड़ को तितर -बितर करना पड़ा. तनाव को देखते हुए समूचे क्षेत्र में धारा 144 लागू कर दी गई है.

उलल्खेनीय है कि हाल ही में उन्मादी अज़ीज़ खान ने हिंदुओं के आस्था के प्रतीक भगवान राम एंव सीता के बारे में अपमानजक टिप्पणी की थी. बड़हापजान के नतुन बाजार निवासी अजीज खाान नामक इस युवक द्वारा सोशल मीडिया पर निंदनीय टिप्पणी करने के बाद हिंदू युवा छात्र परिषद ने तिनसुकिया सदर थाने में एक प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई. अजीज खान को पुलिस द्वारा गिरफ्तार न किए जान से गुस्साए लोगों ने आज दुमदुमा में बंद किया तो लोंगसोवाल एंव बड़ाहापजान नया बाजार में दो समुदायों के बीच पत्थरबाजी हुई,जिसे नियंत्रित करने के लिए सुरक्षा बलों को बल प्रयोग और हवाई फायरिंग भी करनी पड़ेगी. जानकारी के अनुसार शांतिपूर्ण तरीके से चल रहे प्रदर्शन के दौरान एक समुदाय के लोग सड़क पर उतर गए और पथराव करने लगे. इनकी पत्थरबाजी में 20 से अधिक वाहन क्षतिग्रस्त हो गए.

तनाव की सूचना मिलते ही जिला उपायुक्त ओयनाम सरण सिंह, पुलिस अधीक्षक मुग्ध ज्योति देव महंत, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सौरभज्योति सइकिया, दुमदुमा के सर्किल अधिकारी सहित पुलिस और प्रशासन के तमाम आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश सोनोवाल के अनुसार हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले युवक अजीज खान के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के अलावा आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है तथा पुलिस उसकी सरगर्मी से तलाश कर रही है, फिलहाल वह फरार है. पुलिस का दावा है कि जल्द ही वह कानून की गिरफ्त में होगा. सोनोवाल के अनुसार क्षेत्र में शांति बनाए रखने के उद्देश्य से तिनसुकिया जिला प्रशासन द्वारा निषेधाज्ञा लागू की गई. क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाए रखने हेतु सुरक्षा बलों की दो कंपनियों को लगाया गया है. इस बीच जिला उपायुक्त ओयनाम सरण सिंह एंव पुलिस अधीक्षक मुग्ध ज्योति देव महंत ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देकर सांप्रदायिक सौहार्द्र बनाए रखने का आव्हान किया है.

Share This Post